इतिहास मोदी को नौकरी विनाश पीएम के तौर पर पुकारेगा : जयराम रमेश

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा, पीएम बार-बार कहते हैं कि उनके कार्यकाल में रिकॉर्ड रोजगार दिए गए, जबकि पिछले साल एक करोड़ लोग बेरोजगार हुए

इतिहास मोदी को नौकरी विनाश पीएम के तौर पर पुकारेगा : जयराम रमेश

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा है कि इतिहास नरेंद्र मोदी को नौकरी विनाश पीएम के तौर पर पुकारेगा.

खास बातें

  • पीएम मोदी ने कहा था कि मुद्रा योजना में हर एक ने 4-5 लोगों को रोजगार दिए
  • कहा- 25 हजार रुपये में से कोई व्यक्ति 3-4 लोगों को रोजगार दे सकता है?
  • मुद्रा योजना के तहत सहायता राशि 25 हजार रुपये औसतन है
नई दिल्ली:

कांग्रेस (Congress) नेता जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने कहा कि देश में अब तक 11 पीएम हुए हैं, नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 12 वें पीएम हैं लेकिन मोदी पहले पीएम हैं जिनके समय में नौकरी निर्माण के बजाय नौकरी विनाश हुआ है. इतिहास मोदी को इसके लिए नौकरी विनाश पीएम के तौर पर पुकारेगा.

जयराम रमेश ने पत्रकारों वार्ता में कहा कि पीएम को कोई हक नहीं है झूठ बोलने का. पीएम बार-बार कहते हैं कि उनके कार्यकाल में रिकॉर्ड रोजगार दिए गए. जबकि पिछले साल एक करोड़ लोग बेरोजगार हुए हैं, नोटबंदी और जीएसटी की वजह से.

उन्होंने कहा कि 16 नवंबर 2018 को पीएम मोदी ने कहा कि मुद्रा योजना के तहत हर एक ने 4-5 लोगों को रोजगार दिए. 24 नववंबर 2018  को पीएम ने छतरपुर में कहा कि आज देश मे 25 करोड़ परिवारों को मुद्रा परियोजना से लाभ मिला.

कांग्रेस नेता जयराम रमेश बोले, पर्दे के पीछे RSS के 10 अमित शाह सांप्रदायिक ध्रुवीकरण में लगे हैं

उन्होंने कहा कि 90 फीसदी मुद्रा योजना के तहत सहायता राशि 25 हजार रुपये औसतन है. इसमें क्या रोजगार खड़े हो सकते हैं. अगर 25 हजार रुपये में से कोई व्यक्ति 3-4 लोगों को रोजगार दे सकता है. मुद्रा योजना के तहत तीन किस्म में लोन दिए जाते हैं. रोजगार निर्माण करने वालों में तरुण और किशोर केटेगरी आ सकते है जबकि सरकार खुद कहती है कि 90 फीसदी लोन केटेगरी शिशु के तहत थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : अपनों का भरोसा खोती कांग्रेस