NDTV Khabar

जनवरी में इस दिन धरती के बेहद करीब होगा चांद, कर सकेंगे 'सुपरमून' का दीदार

'सुपरमून' एक बार फिर एक जनवरी और 31 जनवरी, 2018 को नजर आएगा.

123 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जनवरी में इस दिन धरती के बेहद करीब होगा चांद, कर सकेंगे 'सुपरमून' का दीदार

सुपरमून (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: सुपरमून का दीदार करना किसे पसंद नहीं होता है. जब भी ऐसा कोई संयोग बनता है लोग शिद्दत से उस दिन का इंतजार करते हैं. यही वजह है कि रविवार को सुपरमून देखने के लिए लोग उत्साहित नजर आए. अगर आप रविवार को फुल मून की खगोलीय घटना का दीदार करने से चूक गए हैं तो चिंता की बात नहीं है, क्योंकि 'सुपरमून' एक बार फिर एक जनवरी और 31 जनवरी, 2018 को नजर आएगा. बता दें कि सुपरमून को फुल मून भी कहा जाता है. इस दौरान चंद्रमा अपनी कक्षा में पृथ्वी के निकटतम बिंदु पर होता है. 

यह भी पढ़ें - सुपरमून : सात दशकों में चांद के धरती के सबसे करीब होने का देखिए अद्भुत नजारा

चूंकि, चंद्रमा की कक्षा अंडाकार है, जिसका एक हिस्सा (एपोजी- चंद्रमा की कक्षा का वह बिंदु जिस पर वह पृथ्वी से सर्वाधिक दूर है) दूसरे हिस्से (पेरिजी- ग्रह की कक्षा का वह बिंदु जिस पर वह ग्रह पृथ्वी से निकटतम होता है) की तुलना में पृथ्वी से लगभग 50,000 किलोमीटर दूर है.

नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के एक शोध वैज्ञानिक ने कहा, "सुपरमून उन लोगों के लिए एक शानदार अवसर है, जो चंद्रमा के बारे में जानना और उसका अन्वेषण करना चाहते हैं." दिसंबर के फुल मून को पारंपरिक रूप से 'कोल्ड मून' भी कहा जाता है. 

यह भी पढ़ें - सुपरमून : 68 साल बाद आज सबसे बड़ा और चमकीला चांद दिखेगा, जानिए इससे जुड़ी 9 बातें

रविवार को निकला फुल मून 2017 का पहला और एकमात्र सुपरमुन था, जो सामान्य चंद्रमा से सात फीसदी बड़ा और 15 प्रतिशत चमकीला था. इसके बाद यह एक और 31 जनवरी को भी नजर आएगा.

VIDEO: 68 साल बाद दिखा सुपरमून(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement