NDTV Khabar

NASA ने धरती के जल चक्र का पता लगाने के लिए प्रक्षेपित किए दो यान 

वैज्ञानिकों के अनुसार शुरुआती डेटा प्राप्ति की प्रक्रिया दर्शाती है कि ये उपग्रह उम्मीद के मुताबिक काम कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NASA ने धरती के जल चक्र का पता लगाने के लिए प्रक्षेपित किए दो यान 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: नासा (NASA) ने धरती के जल चक्र का पता लगाने के लिए दो विशेष अंतरिक्ष यानों का प्रक्षेपण किया है. ग्रैविटी रिकवरी एंड क्लाइमेट एक्सपेरिमेंट फॉलो - ऑन (ग्रेस - एफओ) के नाम से जाना जाने वाला यह मिशन वास्तव में नासा और जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जियोसाइंसेज (जीएफजेड) का एक संयुक्त मिशन है. गौरतलब है कि इन दोनों अंतरिक्ष यानों ने कैलिफोर्निया के वेंडनबर्ग एयरफोर्स बेस से स्पेसएक्स कंपनी के फॉल्कन 9 रॉकेट से उड़ान भरी. मिली जानकारी के अनुसार ये अंतरिक्ष यान 5 पांच इरिडियम नेक्स्ट संचार उपग्रहों के साथ रवाना किए गए हैं. उपग्रहों को नियंत्रित करने वाले ग्राउंड स्टेशनों ने ग्रेस - एफओ के दोनों अंतरिक्षयानों से सिग्नल प्राप्त कर लिए हैं.

यह भी पढ़ें: नासा 2020 में मंगल पर भेजेगा स्वायत्त हेलीकॉप्टर

वैज्ञानिकों के अनुसार शुरुआती डेटा प्राप्ति की प्रक्रिया दर्शाती है कि ये उपग्रह उम्मीद के मुताबिक काम कर रहे हैं. नासा ने बताया कि ग्रेस - एफओ उपग्रह अभी करीब 490 किलोमीटर की दूरी पर हैं और प्रति सेकेंड 7.5 किलोमीटर का सफर तय कर रहा है. इसके अलावा वह एक ध्रुवीय कक्षा में है जहां वह प्रत्येक 90 मिनट में धरती का चक्कर लगा रहे हैं. नासा के साइंस मिशन निदेशालय के सहयोगी प्रशासक थॉमस जुरबुकेन ने कहा कि ग्रेस - एफओ यह जानने में मदद करेगा कि हमारा जटिल ग्रह कैसे काम करता है.

यह भी पढ़ें: नासा के 2 अंतरिक्ष यात्री अगले हफ्ते अंतरिक्ष में चहलकदमी करेंगे

उन्होंने कहा कि यह बहुत जरूरी है क्योंकि इस मिशन के जरिए धरती के जल चक्र के कई महत्वपूर्ण पहलुओं पर नजर रखी जाएगी. ग्रेस - एफओ के डेटा का इस्तेमाल विश्वभर के लोगों के जीवन में सुधार लाने के लिए किया जाएगा. इससे सूखे के दुष्प्रभावों का बेहतर पूर्वानुमान लगाने से लेकर जल प्रबंधन एवं प्रयोग की उच्च - गुणवत्ता की जानकारी जुटाई जा सकेगी.

टिप्पणियां
VIDEO: नासा के नाम पर ठगी करने वाले गिरफ्तार.



खास बात यह है कि यह मिशन 5 साल का है. इस मिशन में ग्रेस - एफओ हमारे ग्रह के इर्द गिर्द मौजूद पिंडों की गतिविधियों पर नजर रखेगा. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement