NDTV Khabar

नेशनल हेराल्ड मामले से जुड़ी याचिका को सोनिया-राहुल गांधी ने बताया 'दुर्भावनापूर्ण'

कांग्रेसी नेताओं ने कहा,'इस तरह के रवैये को कानूनन अनुमति नहीं है.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नेशनल हेराल्ड मामले से जुड़ी याचिका को सोनिया-राहुल गांधी ने बताया  'दुर्भावनापूर्ण'

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी.

खास बातें

  1. कोर्ट ने कहा कि आपको जांच का सामना करना होगा
  2. बीजेपी ने इसे कांग्रेस के लिए बड़ा झटका करार दिया
  3. कांग्रेस ने इसको झटका मानने से इनकार किया
नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नेशनल हेराल्ड मामले में पार्टी से कुछ दस्तावेज की मांग करने वाली भाजपा नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी की याचिका को शनिवार को 'दुर्भावनापूर्ण'करार दिया. सोनिया और राहुल गांधी ने यहां एक अदालत के समक्ष दायर अपने जवाब में कहा कि स्वामी की याचिका 'नया मामला बनाने का प्रयास' है. सोनिया और राहुल गांधी और चार अन्य कांग्रेसी नेताओं ने यह भी कहा कि भाजपा नेता की याचिका 'मामले में कार्यवाही को विलंबित करने' की एक युक्ति है और 'अदालत के बेशकीमती समय और वृहत न्यायिक प्रक्रिया की पूरी तरह बेकद्री है.' 

ये भी पढ़ें: सोनिया गांधी का मोदी सरकार पर तीखा हमला
कांग्रेसी नेताओं ने कहा,'इस तरह के रवैये को कानूनन अनुमति नहीं है. दस्तावेजों तक पहुंच का शिकायतकर्ता का प्रयास और तब इस बात का फैसला कि वास्तव में उसका क्या मामला था, यह मौजूदा आवेदन की दुर्भावनापूर्ण प्रकृति को दर्शाता है.' 


वीडियो: मेरी कार पर हमला BJP और RSS के लोगों ने किया : राहुल गांधी

जवाब में कहा गया कि स्वामी आवेदन दायर करके 'लगातार' दस्तावेजों तक पहुंच बनाने का प्रयास कर रहे हैं. इस बीच, भाजपा नेता ने कांग्रेस पार्टी, नेशनल हेराल्ड ओर अन्य से कथित तौर पर संबंधित तकरीबन 450 पन्ने के दस्तावेज मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट लवलीन के समक्ष दायर किये ताकि अन्य आरोपियों से जवाब हासिल किया जा सके कि क्या वो सही हैं. अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख 23 सितंबर को निर्धारित कर दी.

टिप्पणियां

इनुपट: भाषा
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement