''राष्ट्रीय नायक'' ब्रिगेडियर मोहम्मद उस्मान की कब्र को बनाए रखने में पूरी तरह सक्षम: सेना

सेना के एक सूत्र ने कहा,"कब्र जामिया मिलिया इस्लामिया के क्षेत्राधिकार में आती है इसलिए कब्र के रखरखाव के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन को जिम्मेदार होना चाहिए. अगर वे इसे बनाए नहीं रख सकते तो सेना युद्ध नायक की कब्र की देखभाल करने में पूरी तरह सक्षम है.

''राष्ट्रीय नायक'' ब्रिगेडियर मोहम्मद उस्मान की कब्र को बनाए रखने में पूरी तरह सक्षम: सेना

यह कब्र दक्षिणी दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया में स्थित है. (सांकेतिक तस्वीर)

नई दिल्ली:

दिल्ली में 1947-48 के भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए ब्रिगेडियर मोहम्मद उस्मान की कब्र क्षतिग्रस्त अवस्था में मिली है जिसके बाद सोमवार को सेना के सूत्रों ने कहा कि सेना राष्ट्रीय नायक की कब्र की देखभाल करने में पूरी तरह सक्षम है. उन्होंने कहा कि ब्रिगेडियर उस्मान एक राष्ट्रीय नायक हैं और सेना के वरिष्ठ अधिकारी उनकी कब्र की हालत देखने के बाद बेहद निराश हैं. यह कब्र जिस कब्रिस्तान में है, वह दक्षिणी दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया के अधिकार क्षेत्र में आती है.

सेना के एक सूत्र ने कहा,"कब्र जामिया मिलिया इस्लामिया के क्षेत्राधिकार में आती है इसलिए कब्र के रखरखाव के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन को जिम्मेदार होना चाहिए. अगर वे इसे बनाए नहीं रख सकते तो सेना युद्ध नायक की कब्र की देखभाल करने में पूरी तरह सक्षम है.” सूत्र ने कहा कि उनके अवशेषों को दिल्ली छावनी क्षेत्र में स्थानांतरित करने की कोई योजना नहीं है. वहीं, जामिया मिलिया इस्लामिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “विश्वविद्यालय कब्रिस्तान की चारदिवारी और साफ-सफाई के लिए जिम्मेदार है. हालांकि, कब्रों की देखभाल संबंधित परिवार के सदस्यों द्वारा की जाती है.”

Video: भारत-पाकिस्तान 1971 युद्ध के 50 साल


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)