पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी के अधिकारी के खिलाफ एनआईए ने दायर किए आरोप पत्र

एनआईए ने बताया कि साजिश रचने के समय सिद्दीकी श्रीलंका के कोलंबो स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग में काम करता था.

पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी के अधिकारी के खिलाफ एनआईए ने दायर किए आरोप पत्र

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

चेन्नई:

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को कहा कि उसने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के अधिकारी आमिर जुबैर सिद्दीकी पर भारत के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश के आरोप में यहां एक अदालत में पूरक आरोपपत्र दाखिल कर दिए हैं. एनआईए ने एक बयान में कहा कि सिद्दीकी पर भारतीय दंड संहिता और अवैध गतिविधि अधिनियम 1967 के अंतर्गत पूरक आरोप पत्र दाखिल किया गया है. सिद्दीकी पर भारत में स्थित अमेरिकी वाणिज्यिक दूतावास, बेंगलुरू में स्थित इलेक्ट्रॉनिक सिटी और इजरायली वाणिज्यिक दूतावास तथा दक्षिण भारत में विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर हमले की साजिश रचने का आरोप है.

एनआईए ने बताया कि साजिश रचने के समय सिद्दीकी श्रीलंका के कोलंबो स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग में काम करता था. एनआईए ने सिद्दीकी के अलावा उच्च गुणवत्ता वाली नकली भारतीय मुद्रा प्रसारित करने के आरोप में बालासुब्रह्मण्यम और नूरुद्दीन के खिलाफ भी आरोप-पत्र दाखिल किया है.

यह भी पढ़ें : NCP ने उम्मीदवार की हत्या के मामले की जांच NIA से कराने की मांग की

वास्तविक मामला यहां श्रीलंकाई मूल के मोहम्मद साकिर हुसैन की गिरफ्तारी के बाद तमिलनाडु पुलिस की अपराध जांच विभाग (सीआईडी) की क्यू शाखा ने 28 अप्रैल, 2014 को दर्ज किया था. उस पर आरोप था कि वह सिद्दीकी के निर्देश पर भारत में हमले करने आया था. एक अप्रैल, 2014 को सह आरोपी मोहम्मद सलीम के पास से 2.5 लाख रुपये के नकली नोट बरामद हुए थे. गृह मंत्रालय के आदेश पर यह मामला एनआईए ने अपने अधिकार में ले लिया था. हुसैन पर आरोप सिद्ध होने के बाद अदालत ने उसे पांच साल कारावास की सजा सुनाई थी.

VIDEO : NIA के ख़ुलासे के बाद ASI भगवान सिंह निलंबित​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com