21 अक्‍टूबर तक तैयार हो जाएगा राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक

21 अक्‍टूबर तक तैयार हो जाएगा राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली:

देश भर में करीब 50000 पुलिसवालों ने अपनी जान अपनी ड्यूटी निभाते हुए दी होगी लेकिन उनको कोई नहीं जनता है। लेकिन ये जल्द बदलने वाला है क्योंकि पहला राष्ट्रीय पुलिस मेमोरीयल - जिसमें 50000 से ज़्यादा पुलिसवालों के नाम लिखे होंगे, तयार होने वाला है। इसका उद्घाटन 31 अक्‍टूबर को होगा।

दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाक़े में 6 एकड़ के प्लॉट पर इसे बनाया जा रहा है और गृह मंत्रालय के मुताबिक़ इसे बनाने में 50 करोड़ रुपये का ख़र्च आएगा।

आठ साल पहले इस जगह बन रहे ढांचे को लेकर काफ़ी विरोध हुआ था। विरोध इसकी ऊंचाई को लेकर थी। बनाए गए ढांचे को इसीलिए तोड़ा गया था क्योंकि कई लोग उसके ख़िलाफ़ कोर्ट चले गए थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अब नए प्लान के कारण 50000 शहीदों के नाम यहां खुदे रहेंगे। इस मेमोरीयल को धौलपुर से लाए गए पथर, लाल पथर और सफ़ेद कंकड़ों से बनाया जा रहा है।

गृह मंत्रालय के विशेष सचिव एम के सिंघला ने कहा, "क़रीब 60 फ़ीसदी काम हो चुका है, बाक़ी का काम 21 अक्‍टूबर से पहले हो जाएगा।" बताया जा रहा है की नया ढांचा क़ानून के दायरे में है।