NDTV Khabar

नौसेना अगले दशक में विमानों की संख्या दोगुनी करेगी : एडमिरल सुनील लांबा

नौसेना की एविएशन इकाई में वर्तमान में 238 विमान, एक दशक में विभिन्न किस्म के विमानों की संख्या बढ़ाकर 500 तक की जाएगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नौसेना अगले दशक में विमानों की संख्या दोगुनी करेगी : एडमिरल सुनील लांबा

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. लांबा ने एयर फोर्स एकेडमी में ‘कंबाइंड ग्रेजुएशन परेड’ की समीक्षा की
  2. कहा- साबी गिरि को नौसेना सीधे नौकरी में नहीं ले सकती
  3. गिरि को एक पुरुष के तौर पर नौसेना में शामिल किया गया था
हैदराबाद: नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने आज कहा कि भारतीय नौसेना की एविएशन इकाई आगामी दशक में अपने विमान बेड़े को दोगुना करके विमानों की संख्या बढ़ाकर करीब 500 करेगी.

लांबा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमारे पास नौसेना की एक एविएशन इकाई है जिसमें वर्तमान में 238 विमान हैं. इसमें लड़ाकू विमान, हेलीकाप्टर और समुद्री गश्त करने वाले विमान शामिल हैं. हमारे पास एक योजना है...एक दशक के समय में यह नौसेना की विमान इकाई बढ़ जाएगी और इसमें विभिन्न तरह के करीब 500 विमान हो जाएंगे.’’

यह भी पढ़ें : युद्धपोतों पर महिला अधिकारियों को जाने देने के लिए नियमों का अध्ययन कर रही है नौसेना

लांबा ने यहां एयर फोर्स एकेडमी में ‘कंबाइंड ग्रेजुएशन परेड’ की समीक्षा की. साबी गिरि के मुद्दे पर एक-एक सवाल के जवाब में नौसेना प्रमुख ने कहा कि नौसेना उसे सीधे नौकरी में नहीं ले सकती लेकिन यदि वह किसी एजेंसी के जरिए एक अनुबंध कर्मी के तौर पर आती है तो बल उसे स्वीकार करने को तैयार है. साबी गिरि को लिंग परिवर्तन सर्जरी कराने के लिए सेवा से मुक्त कर दिया गया है. लांबा ने साबी गिरि की सेवा समाप्त करने का बचाव करते हुए कहा कि नौसेना लिंग तटस्थ सेवा है लेकिन गिरि के कदम ने नियमों का उल्लंघन किया. उन्होंने कहा, ‘‘विशिष्ट रूप से गिरि के मुद्दे में, उसे एक पुरुष के तौर पर नौसेना में शामिल किया गया था. नौसेना या नियम एवं शर्तों में ऐसा कोई प्रावधान नहीं कि आप जाकर वह करें जो उसने किया है. इसीलिए उसे नियम एवं शर्तों का उल्लंघन करने के लिए सेवा से बर्खास्त कर दिया गया.’’

लांबा ने कहा, ‘‘हमने अदालत से कहा कि हम वह नहीं कर सकते (उसे सेवा में लें) हमने अदालत को बता दिया है कि यदि कोई निजी पक्ष उसे रख ले, वह नौसेना में एक अनुबंध कर्मी के तौर पर आए (निजी पक्ष के कर्मी के तौर पर और नौसेना के प्रत्यक्ष कर्मी के तौर पर नहीं).’’

टिप्पणियां
VIDEO : आईएनएस विराट रिटायर हुआ


नौसेना प्रमुख लांबा ने कहा कि रक्षा इकाई सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम के प्रति प्रतिबद्ध है और वर्तमान में 34 पोत और पनडुब्बियां भारतीय गोदियों में निर्माणाधीन हैं.’’ इस बीच वायुसेना अकादमी ने एक बयान में कहा कि 105 फ्लाइट कैडेट आज फ्लाइंग आफिसर के तौर पर पासआउट हुए जिसमें 15 महिला अधिकारी शामिल हैं. अधिकारियों में दो लड़ाकू पायलट शामिल हैं.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement