यह ख़बर 25 मई, 2013 को प्रकाशित हुई थी

कांग्रेस परिवर्तन यात्रा पर नक्सल हमला, महेंद्र कर्मा सहित 17 की मौत, 18 लापता

खास बातें

  • छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों ने कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हमला कर दिया जिसमें पूर्व विधायक उदय मुदलियार और कांग्रेस नेता महेंद्र कर्मा की मौत हो गई।
रायपुर/जगदलपुर:

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों ने शनिवार को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हमला कर राज्य के पूर्व मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता महेंद्र कर्मा समेत 17 लोगों की हत्या कर दी। हमले की जानकारी मिलने के बाद मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अपनी विकास यात्रा रोक दी है। खबरों के अनुसार 18 जवान लापता हैं।

हमले में घायल एक दर्जन से ज्यादा कांग्रेसी नेताओं की हालत गंभीर बताई गई है। कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ल और विधायक कवासी लखमा की पीठ में गोलियां लगी हैं। प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नंदकुमार पटेल लापता हैं। हालांकि उनके पुत्र सही सलामत घर लौट आए हैं। पहले आशंका जताई जा रही थी कि पटेल पिता-पुत्र समेत कई कांग्रेसी नेताओं को नक्सलियों ने बंधक बना लिया है।

कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर शनिवार को नक्सलियों ने हमला बोल दिया। हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महेंद्र कर्मा, उदय मुदलियार और कार्यकर्ता गोपी माधवानी की मौत हो गई। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी हेलीकॉप्टर से सकुशल राजधानी लौट चुके हैं।
 
इस बीच मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अपनी विकास यात्रा रद्द कर दी है और राजधानी में आपात बैठक बुलाई है।

कांग्रेस ने भी परिवर्तन यात्रा रद्द कर दी है और 26 मई को छत्तीसगढ़ बंद का आह्वान किया है।

मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने परिवर्तन यात्रा से लौट रहे कांग्रेस के काफिले पर लगातार दो घंटे तक फायरिंग की। हमले में दर्जनों कांग्रेसी नेता व कार्यकर्ता घायल हो गए। घायल कांग्रेस नेता गोपी वाधवानी की मौत अस्पताल में उपचार के दौरान हो गई।

लगभग 200 की संख्या में नक्सलियों ने पहले सुकमा जिले की जीरम घाटी में विस्फोट किया। इसके बाद दरभा घाटी के पास गोलीबारी शुरू कर दी। काफिले में लगभग 16 से 20 गाड़ियां शामिल थीं जिनपर लगभग 120 कार्यकर्ता सवार थे।

परिवर्तन यात्रा के इस काफिले में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल, महेंद्र कर्मा, कवासी लखमा, उदय मुदलियार सहित कई बड़े नेता शामिल थे।

गौरतलब है कि पटेल के काफिले पर इससे पहले भी गरियाबंद के पास नक्सली हमला हुआ था जिसमें वे बाल-बाल बच गए थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बीच घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि पता नहीं भाजपा की किस-किस से अंडरस्टैंडिंग है।

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल शेखर दत्त ने परिवर्तन यात्रा पर नक्सली हमले की भर्त्सना की है। उन्होंने कहा है कि शांतिमय रूप से आयोजित हो रही इस यात्रा के दौरान हिंसक साधनों के माध्यम से उसे प्रभावित करने का प्रयास अत्यंत निंदनीय है। उन्होंने कहा है लोकतंत्र में जनता के साथ राजनीतिक कार्यकताओं का सम्मिलन एक स्वाभाविक एवं आवश्यक प्रक्रिया है। इस तरीके का व्यवधान करना अत्यंत कायराना है।