महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले NCP को लगा झटका, शिवसेना में शामिल हुए वरिष्ठ नेता सचिन अहीर

एनसीपी को झटका देते हुए उसकी मुंबई इकाई के प्रमुख एवं महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री सचिन अहीर गुरुवार को शिवसेना में शामिल हो गए.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले NCP को लगा झटका, शिवसेना में शामिल हुए वरिष्ठ नेता सचिन अहीर

सचिन अहीर

खास बातें

  • महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले NCP को लगा झटका
  • शिवसेना में शामिल हुए वरिष्ठ नेता सचिन अहीर
  • उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे ने अहीर का किया स्वागत
मुंबई:

एनसीपी को झटका देते हुए उसकी मुंबई इकाई के प्रमुख एवं महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री सचिन अहीर (Sachin Ahir) गुरुवार को शिवसेना में शामिल हो गए. शिवसेना (Shiv Sena) अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने अहीर ( Sachin Ahir) का स्वागत किया. राज्य में पूर्ववर्ती कांग्रेस-राकांपा गठबंधन सरकार में मंत्री अहीर, शरद पवार नीत पार्टी के 1999 में गठन के बाद से उससे जुड़े हुए थे. उन्होंने 1999 से 2009 तक मुंबई में शिवड़ी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया और उन्हें बाद में वर्ली से चुना गया. वह 2014 में शिवसेना के सुनील शिंदे से विधानसभा चुनाव हार गए थे. अहीर ने कहा कि उनके मन में राकांपा के लिए कोई दुर्भावना नहीं है. उन्होंने कहा, 'मौजूदा हालात को देखते हुए कुछ अपरिहार्य राजनीतिक फैसले लेने पड़े.'

महाराष्ट्र के CM देवेंद्र फडणवीस बोले, मैं पहले ही कह चुका हूं, दूसरी बार भी मैं ही मुख्यमंत्री बनूंगा

अहीर ने कहा कि कुछ दिन पहले वह एक सामाजिक समारोह में आदित्य ठाकरे से मिले थे, जिन्होंने उनसे कहा था कि शिवसेना को उनके जैसे नेताओं की आवश्यकता है जो 'शहरी राजनीति से अच्छी तरह वाकिफ' हों. उन्होंने कहा, 'राज्य में अधिकतर नगर निगमों में शिवसेना सत्ता में है. मैं शहरों के विकास के लिए एक मंत्री के तौर पर मिले अनुभव का प्रयोग कर सकता हूं, इसलिए मैंने सत्ता में रहकर विकास के लिए काम करने का निर्णय लिया.'

अहीर ने कहा कि इस संबंध में जल्द फैसला लिया जाएगा कि वह आगामी विधानसभा चुनाव में वर्ली से खड़े होंगे या नहीं. राज्य में सितंबर-अक्टूबर में चुनाव होने हैं. सूत्रों के मुताबिक एनसीपी के अन्य वरिष्ठ नेता भी शिवसेना के नेताओं के संपर्क में हैं. इनमें पूर्व शिवसेना नेता छगन भुजबल भी शामिल हैं, जो कांग्रेस-राकांपा सरकार में उपमुख्यमंत्री थे. भुजबल मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल भी गए थे.

'जन आशीर्वाद यात्रा' पर आदित्‍य ठाकरे, संजय राउत ने कहा- अगला मुख्‍यमंत्री शिवसेना से होगा 

बताया जा रहा है कि वह शिवसेना में वापसी के लिए बातचीत कर रहे हैं, लेकिन शिवसेना उन्हें वापस लाने के लिए तैयार नहीं दिख रही है. भुजबल करीब 25 साल से शिवसेना में थे, लेकिन शरद पवार ने जब एनसीपी का गठन किया तो वह उनके साथ चले गए. (इनपुट- भाषा)

वीडियो: महाराष्ट्र में चुनाव से पहले मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी से नाराज है शिवसेना-

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com