चक्रवात फानी के दौरान क्या करें और क्या न करें, NDMA ने जारी की लिस्ट

चक्रवाती तूफान 'फानी' ओडिशा के पुरी तट तक पहुंच गया है. जिससे कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं.

चक्रवात फानी के दौरान क्या करें और क्या न करें, NDMA ने जारी की लिस्ट

फानी को लेकर दिशा-निर्देश जारी किया गया है.

नई दिल्ली :

चक्रवात फानी(Cyclone Fani) का घातक असर दिखाई देने लगा है. पूर्वांचल के जिलों से मौसम खराब होने की खबर सामने आ रही है. इस चक्रवात से अब तक आठ लोगों के मरने की खबर है. इसका असर उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी दिख सकता है. चक्रवाती तूफान 'फानी' (Cyclone Fani) ओडिशा (Odisha) के पुरी तट तक पहुंच गया है जिससे कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं. समुद्र के किनारे बसे मंदिर, शहर, पुरी में कई इलाके और अन्य जगहों पर पानी भर गया है. राज्य के सभी तटीय इलाकों में भारी बारिश हो रही है. 

सड़कों पर गिरे पेड़, तो कइयों के घर हुए तबाह, Photos में देखें फानी चक्रवाती तूफान का कहर

कई पेड़ उखड़ गए और भुवनेश्वर समेत कुछ स्थानों पर बनीं झोपड़ियां तबाह हो गई हैं. चक्रवात फानी से सुरक्षा के इंतजामों में जुटी ओडिशा सरकार ने 11 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया है. देश के कई हिस्सों में फानी चक्रवात के कहर से जनता को बचाने के लिए गृह मंत्रालय ने कंट्रोल रूम स्थापित किया है. इसका हेल्पलाइन भी गृह मंत्रालय ने जारी किया है. जिसका नंबर है-1938. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने भी इस चक्रवात से निपटने के लिए अपने ट्विटर हैंडल पर कुछ निर्देश जारी किए हैं.


चक्रवात से पहले क्या करें

शांत रहें और घबराएं नहीं, अफवाहों पर ना दें ध्यान 
संपर्क में बने रहने के लिए मोबाइल चार्ज रखें और एसएमएस के जरिए संपर्क करें 
मौसम की जानकारी रखने के लिए रेडियो, टीवी और अखबार पर ध्यान दें
जरूरी और कीमती सामान को वाटरप्रूफ बैग में रखें 
एक किट तैयार कर लें जिसमें सुरक्षित रहने के लिए जरूरी सामान हो
घर और इमारत की मरम्मत करा लें और कोई नुकीला सामान खुला न छोड़ें 
पशुओं को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो उन्हें बांधकर न रखें

चक्रवात के दौरान या बाद में क्या करें (अगर आप घर के अंदर हों)

सबसे पहले बिजली का मेन स्विच और गैस सप्लाई बंद कर दें 
दरवाजों और खिड़कियों को बंद रखें 
अगर घर असुरक्षित हो तो चक्रवात से पहले किसी सुरक्षित स्थान पर चले जाएं 
रेडियो पर जानकारी को अपडेट रखें 
उबला हुआ पानी या क्लोरीनयुक्त पानी ही पिएं 
केवल उसी चेतावनी को गंभीरता से लें जो आधिकारिक हो 

चक्रवात के दौरान या बाद में क्या करें(अगर आप घर के बाहर हों)

टूटी हुई इमारतों में न जाएं
टूटे बिजली के खंबों, तारों और नुकीली चीजों से बचें 
कोशिश करें कि किसी सुरक्षित स्थान पर पहुंचें

इसके अलावा एनडीएमए ने मछुआरों के लिए विशेष निर्देश जारी किए हैं. एनडीएमए के मुताबिक मछुआरे अतिरिक्त बैटरियों के साथ रेडियो सेट हमेशा साथ रखें. इसके अलावा नावों और बेड़ों को सुरक्षित जगह पर बांध कर रखें. इसके अलावा समुद्र में ना जाएं.  

वीडियो- ओडिशा में फानी तूफान की दस्तक, तेज हवाएं और बारिश 

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com