NDTV Khabar

देश को बदलाव की जरूरत जिसके लिए राहुल कड़ी मेहनत कर रहे हैं: रॉबर्ट वाड्रा

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि देश को बदलाव की जरूरत है और यह परिवर्तन आएगा क्योंकि उनका परिवार और राहुल गांधी इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देश को बदलाव की जरूरत जिसके लिए राहुल कड़ी मेहनत कर रहे हैं: रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा ने आंध्र प्रदेश में स्थित तिरुपति मंदिर में दर्शन किए

खास बातें

  1. देश को बदलाव की जरूरत है
  2. उनका परिवार और राहुल गांधी इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं
  3. भारतवासियों ने बहुत कुछ झेला है
नई दिल्ली: कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि देश को बदलाव की जरूरत है और यह परिवर्तन आएगा क्योंकि उनका परिवार और राहुल गांधी इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं. वाड्रा ने कहा कि भारतवासियों ने बहुत कुछ झेला है लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि इससे उनका इशारा किस तरफ है. वाड्रा देशभर में आध्यात्मिक यात्रा पर निकले हुए हैं. उन्होंने रविवार को आंध्र प्रदेश में स्थित तिरुपति मंदिर में दर्शन किए. उन्होंने एक फोटो के साथ फेसबुक पर एक संदेश पोस्ट किया है.    मंदिर में दर्शन के बाद प्रियंका गांधी के पति वड्रा ने कहा, ‘एक बदलाव की जरूरत है और मुझे लगता है कि यह बदलाव आएगा. मेरे ख्याल से मेरा परिवार बहुत कड़ी मेहनत कर रहा है, राहुल कड़ी मेहनत कर रहे हैं. हम हमेशा उनकी सहायता के लिए हैं. प्रियंका और मैं हमेशा राहुल की सहायता के लिए हैं.’

क्या 2019 में कांग्रेस ले सकती है चौंकाने वाला फैसला, सोनिया गांधी का रायबरेली सीट से लड़ना अभी तक तय नहीं

वाड्रा ने कहा, ‘मेरा मानना है कि लोग बदलाव चाहते हैं. मैं देख सकता हूं कि लोगों ने बहुत सहन किया है. हम सबको धर्मनिरपेक्ष होने की जरूरत है जो हमारे देश के लिए बहुत अहम है. हम यहां भारत के लोगों के साथ हैं और हम उनके लिए तमाम संघर्ष करेंगे और अपना सर्वश्रेष्ठ करेंगे.’ उन्होंने कहा, ‘मैंने बहुत अच्छे से दर्शन किए. मुझे ताकत मिलती महसूस हुई और मैं अपने परिवार, अपने बच्चों और मेरी सास, उनके अच्छे स्वास्थ्य, खुशहाली तथा हमारे देश के सभी लोगो की खुशहाली, शांति और भाईचारे के लिए यह ऊर्जा लेकर जा रहा हूं.’ 

रॉबर्ट वाड्रा पर बीजेपी का वार, टैक्स चोरी करने का आरोप

वाड्रा ने कहा, ‘हम सब बहुत बदलाव से गुजर रहे हैं, लेकिन हमें प्यार और स्नेह महसूस करना चाहिए और मुझे लगता है कि मुझपर कृपा है. मैं इस ऊर्जा को ले जाकर इसको फैलाना चाहता हूं.’ फेसबुक पोस्ट पर उन्होंने कहा,‘ अपनी आध्यात्मिक यात्रा पर तिरुपति और तिरूमाला वेंकेटेश्वर मंदिर में दर्शन करके धन्य महसूस कर रहा हूं.’ उन्‍होंने कहा कि कोई केवल तभी तिरुपति जाने वालों की भक्ति को समझ सकता है, जब वह कई ऐतिहासिक मंदिरों की यात्रा करने का प्रयास करता है और अपने अनुष्ठानों का पालन करता है. उन्होंने शुरू में श्री पद्मावती अम्मावरू मंदिर (लक्ष्मीजी) में प्रार्थना की और फिर तिरूमाला गए लेकिन उन्हें ‘सुप्राभटम’ दर्शन के लिए देर रात दो बजे तक इंतजार करना पड़ा.

टिप्पणियां
कांग्रेस ने खत्म किया मणिशंकर अय्यर का 'वनवास', BJP ने पूछा - क्या पार्टी उनके बिना अधूरी थी

वाड्रा पर पलटवार करते हुए भाजपा ने कहा कि उनकी टिप्पणी बताती है कि गांधी परिवार में सत्ता पर दावेदारी को लेकर ‘बैचेनी’ है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘तो अब देश को शासन के बारे में रॉबर्ट वाड्रा से उपदेश लेना होगा.’ उन्होंने कहा कि गांधी परिवार में बैचेनी का आलम है क्योंकि गांधी परिवार सत्ता में रहने का आदि है. इस बैचेनी के आलम की वजह से जब वे सत्ता से बाहर होते हैं तब हम देखते हैं कि गांधी परिवार का हर सदस्य ‘सिंहासन पर दावा ’ करता है.    पत्रा ने कहा कि यह देश एक वंश, एक परिवार का नहीं है. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement