NDTV Khabar

Exclusive: कपिल मिश्रा के आरोपों की निकली हवा? AAP को 2 करोड़ का चंदा देने वाला आया सामने

उत्तर पूर्वी दिल्ली के गंगा विहार में रहने वाले मुकेश शर्मा ने एनडीटीवी इंडिया से कहा है कि "ये चारों कंपनियां मेरी हैं.मैंने AAP को 2 करोड़ का चंदा दिया था. मैंने डिमांड ड्राफ़्ट बनवाकर चंदा दिया था.

12 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. मुकेश शर्मा ने कहा- ये चारों कंपनियां मेरी हैं
  2. मैंने डिमांड ड्राफ़्ट बनवाकर चंदा दिया था
  3. मैंने सोचा था ये राजनीति में अच्छा कर सकते हैं
नई दिल्ली: AAP फंडिंग विवाद में नया मोड़ आ गया है. पहली बार 2 करोड़ का चंदा देने वाला 'फ़र्ज़ी कंपनियों' का मालिक सामने आया है. मामला आम आदमी पार्टी को 50-50 लाख रुपये के चेक चंदे में देने का मामला है. पहली बार एक शख्स सामने आया है जिसका कहना है कि ये चारों कंपनियां जिनके नाम से आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपये का चंदा अप्रैल 2014 में मिला है वह कंपनियां फ़र्ज़ी नहीं हैं, बल्कि वो चारों कंपनियां उसकी अपनी हैं.  उत्तर पूर्वी दिल्ली के गंगा विहार में रहने वाले मुकेश शर्मा ने एनडीटीवी इंडिया से कहा है कि ये चारों कंपनियां मेरी हैं.मैंने AAP को 2 करोड़ का चंदा दिया था. मैंने डिमांड ड्राफ़्ट बनवाकर चंदा दिया था. मुकेश शर्मा ने बताया कि वह राजनीतिक पचड़े में नहीं पड़ना चाहते थे इसलिए जब यह मामला दो साल पहले उठा तब मीडिया के सामने नहीं आए. (केजरीवाल साल भर में केवल दो बार ऑफिस गए, लेकिन सरकार 3 देखने चले गए : कपिल मिश्रा)

एनडीटीवी इंडिया से बात करते हुए मुकेश ने बताया कि मैं अरविंद केजरीवाल को नहीं जानता न उनसे मिला केवल चंदा देते समय पार्टी के सेक्रेटरी पंकज गुप्ता और खजांची संजू से मिला था. मैंने इसलिए चंदा दिया क्योंकि मुझे लगता था कि ये राजनीति में कुछ अच्छा करने आए हैं. (अरविंद केजरीवाल ने फिर लगाया केंद्र पर आरोप, बोले- आपकी दुश्मनी हमसे, जनता से बदला मत लो)

एनडीटीवी इंडिया ने सवाल पूछा कि जब दो साल पहले यह मामला उठा था तब इन कंपनियों के पते पर जब रिपोर्टर जा रहे थे तो इसमें कोई नहीं मिल रहा था इसलिए इन कंपनियों के फर्जी होने का शक हुआ तो मुकेश शर्मा ने बताया कि पहली बार इस तरह का कोई विवाद हुआ था तो हम इसमें पड़ना नहीं चाहते थे इसलिए हमने उन जगहों पर कहा था कि कोई भी आए मना कर देना इसलिए किसी को कुछ नहीं मिला, लेकिन अब 4 में से 3 कंपनी करावल नगर में रजिस्टर्ड हैं और एक अलीपुर नरेला में.

आपको बता दें कि फरवरी 2015 में और अब कपिल मिश्रा और उनके सहयोगी ने आम आदमी पार्टी पर फ़र्ज़ी कंपनियों से 2 करोड़ का चंदा लेने का आरोप लगाया था और इस मामले में अभी तक कुछ सामने नहीं आ रहा था, न कंपनी का ही कोई अता-पता मिल रहा था, लेकिन यह पहली बार है कि किसी ने सामने आकर कहा है कि कंपनियां असली हैं और चंदा उसने दिया है. मुकेश ने बताया कि उनकी ये कंपनियां क़र्ज़ लेने-देने या जमीन की खरीद-फरोख्त का काम करती हैं और बीते दो साल से उनकी 4 कंपनी Sky line metal & alloy Pvt LTD,Sunvision agencies Pvt LTD,Infolense software solutions LTD,Goldmine & buildcon Pvt LTD की जांच जारी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement