NDTV Khabar

'आजादी' के दिन नाली से आ रही थी चीखने की आवाजें, झांक कर देखा तो आंखें हो गईं नम, Video वायरल

जिस वक्त भारत अपने 72वें स्वतंत्रता दिवस पर सूरज के उगने का इंतज़ार कर रहा था, उसी वक्त गीता ने अपने घर के पास से बह रही नाली में से कुछ आवाज़ें आती सुनीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'आजादी' के दिन नाली से आ रही थी चीखने की आवाजें, झांक कर देखा तो आंखें हो गईं नम, Video वायरल

नाले से जिंदा नवजात को निकाला गया

खास बातें

  1. तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के वलसरवक्कम की है घटना.
  2. नवजात जीवित है.
  3. स्वतंत्रता दिवस के दिन मिला नवजात.
चेन्नई: जिस वक्त भारत अपने 72वें स्वतंत्रता दिवस पर सूरज के उगने का इंतज़ार कर रहा था, उसी वक्त गीता ने अपने घर के पास से बह रही नाली में से कुछ आवाज़ें आती सुनीं... तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के वलसरवक्कम इलाके में रहने वाली गीता ने समझा कि शायद कोई छोटा जानवर ढकी हुई नाली में फंस गया है, सो, उसने भीतर झांका और उसे बाहर खींच लिया. लेकिन गीता और पास खड़े अन्य सभी लोगों के होश उड़ गए, जब उन्होंने देखा कि गीता ने जिसे बाहर खींचा, वह एक नवजात लड़का है, जिसके गले से नाल (umbilical cord) तक लिपटी हुई थी.

इंफाल से दिल्ली आए विमान के टॉयलेट में मिला नवजात बच्चे का शव

गीता ने तुरंत ही नाल को बच्चे के गले से अलग किया, बच्चे को नहलाया, और चेन्नई के एगमोर अस्पताल में पहुंचा दिया, क्योंकि बच्चे को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. अस्पताल के डॉक्टरों के मुताबिक, बच्चे की हालत में सुधार हुआ है, और अब वह बिल्कुल ठीक है.

टिप्पणियां
गृहिणी गीता ने कहा, "मैं उसका नाम 'सुतंतिरम' (स्वतंत्रम) रख रही हूं, क्योंकि वह मुझे स्वतंत्रता दिवस पर मिला है... मुझे खुशी है कि उसे जीने की आज़ादी मिल गई..."

हरियाणा: सिविल अस्‍पताल में बिजली नहीं होने के चलते दो नवजात की मौत

बच्चे का नाली में पाया जाना, उसे नहलाया जाना, अस्पताल पहुंचाए जाना, और फिर अम्मा (तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता) कम्बल किट में लपेटा जाना कैमरे पर रिकॉर्ड किया गया था, और अब वह वीडियो वायरल हो रहा है.


बहुत-से लोग जानना चाह रहे हैं कि वे इस बच्चे को गोद कैसे ले सकते हैं... उधर, इस बच्चे को निश्चित मौत से बचा लेने के लिए गीता की भी जमकर तारीफ की जा रही है, और सोशल माडिया पर उसका फैन क्लब तक बना दिया गया है...

VIDEO: 12 किलोमीटर पैदल चलकर गर्भवती पत्नी को एंबुलेंस तक पहुंचाया पर नहीं बची बच्चे की जान


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement