PNB घोटाला : नीरव मोदी ने CBI जांच में सहयोग से किया इनकार

अधिकारियों ने बताया कि मोदी को ई-मेल के जरिये समन किया गया था, लेकिन उसने 'विदेश में कामकाज' होने को वजह बताते हुए पेश होने से इनकार कर दिया.

PNB घोटाला : नीरव मोदी ने CBI जांच में सहयोग से किया इनकार

नीरव मोदी.

नई दिल्ली:

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने सीबीआई जांच में सहयोग से इनकार कर दिया है. सीबीआई ने मोदी को दो अरब डॉलर के कथित घोटाले में उसके समक्ष पेश होने को कहा था. नीरव मोदी ने अपनी कामकाजी व्यस्तता का हवाला देने हुए सीबीआई के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताई है. इसके बाद एजेंसी ने मोदी को अधिक कड़ा पत्र जारी कर अगले सप्ताह उसके समक्ष पेश होने को कहा है.

यह भी पढ़ें :  PNB घोटाला : नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड ने अमेरिका में दी दिवालिया होने की अर्जी

इस बीच, सीबीआई ने इस मामले में पीएनबी के आंतरिक मुख्य ऑडिटर एमके शर्मा को गिरफ्तार किया है. वह मुख्य प्रबंधक स्तर के अधिकारी हैं. यह बैंक के किसी ऑडिटर की पहली गिरफ्तारी है. शर्मा, स्केल-चार स्तर के अधिकारी हैं, उनपर बैंक की ब्रैडी हाउस शाखा की प्रणालियों और कामकाज के तौर तरीकों की आडिट की जिम्मेदारी थी. इसी शाखा से साख पत्र (एलओयू) जारी किए गए, जिससे नीरव मोदी ने अन्य बैंकों की विदेशी शाखाओं से कर्ज लिया.

यह भी पढ़ें : PNB घोटाला: ED ने पीएनबी के प्रबंध निदेशक को समन किया, नीरव मोदी और उसकी पत्नी नहीं हुए पेश

इस बीच, एक कड़े पत्र के जरिये सीबीआई ने नीरव मोदी को निर्देश दिया कि वह जिस देश में है वहां भारतीय दूतावास से संपर्क करे, जिससे उसकी भारत यात्रा के लिए व्यवस्था की जा सके. सीबीआई ने मोदी से कहा है कि किसी भी आरोपी को जांच में शामिल होने के लिए बुलाने पर पेश होना अनिवार्य है. मोदी को सीबीआई ने अगले सप्ताह पूछताछ के लिए बुलाया है.

VIDEO :  क्‍या निजीकरण से रुकेगा बैंकों में घोटाला?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इससे पहले एजेंसी ने मोदी को उसके आधिकारिक मेल पर संदेश भेजकर 12,636 करोड़ रुपये के घोटाले की जांच में शामिल होने को कहा था. अधिकारियों ने बताया कि मोदी को ई-मेल के जरिये समन किया गया था. लेकिन उसने 'विदेश में कामकाज की व्यस्तता' होने को वजह बताते हुए पेश होने से मना कर दिया.

(इनपुट : भाषा)