Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

निर्भया की मां बोलीं- 2012 में जो विरोध में सड़कों पर उतरे थे, आज वही राजनीतिक फायदे के लिए मेरी बेटी की मौत से खिलवाड़ कर रहे हैं

निर्भया (Nirbhaya Case) के चारों दोषियों को फांसी देने के लिए 22 जनवरी की तारीख मुकर्रर हो चुकी है. फांसी से बचने के लिए दोषी मुकेश सिंह और विनय कुमार शर्मा हर कानूनी हथकंडा अपना रहे हैं.

खास बातें

  • निर्भया की मां ने पीएम मोदी से की अपील
  • PM को याद दिलाया 2014 का चुनावी नारा
  • 22 जनवरी को ही फांसी दिए जाने की मांग
नई दिल्ली:

निर्भया (Nirbhaya Case) के चारों दोषियों को फांसी देने के लिए 22 जनवरी की तारीख मुकर्रर हो चुकी है. फांसी से बचने के लिए दोषी मुकेश सिंह और विनय कुमार शर्मा हर कानूनी हथकंडा अपना रहे हैं. मुकेश की क्यूरेटिव पिटीशन खारिज होने के बाद उसने फांसी की सजा से बचने के लिए राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजी है. मुकेश के वकीलों का तर्क है कि दया याचिका अभी लंबित है और याचिका पर फैसला होने के बाद किसी भी दोषी को 14 दिनों का समय दिया जाता है, लिहाजा उन्हें 22 जनवरी को फांसी नहीं दी जा सकती. दोषियों की फांसी को लेकर दिल्ली सरकार और बीजेपी के बीच भी आरोप-प्रत्यारोप जारी हैं. बीजेपी का आरोप है कि केजरीवाल सरकार की वजह से दोषियों की फांसी में देरी हुई है. अब निर्भया की मां ने कहा है कि राजनीतिक फायदे के लिए चारों दोषियों की फांसी को रोका गया है.

निर्भया मामले में प्रकाश जावड़ेकर ने दिल्ली सरकार पर उंगली उठाई, मनीष सिसोदिया ने दिया करारा जवाब

निर्भया की मां ने कहा, 'जब 2012 में ये घटना हुई थी तो यही लोगों ने हाथ में तिरंगा लिया, हाथ में काली पट्टी बांधी और महिलाओं की सुरक्षा के लिए खूब रैलियां कीं, खूब नारे लगाए. आज यही लोग उस बच्ची की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. कोई कह रहा है कि आपने रोक दिया, कोई कह रहा है कि हमें पुलिस दे दीजिए मैं दो दिन में दिखाऊंगा. अब मैं जरूर कहना चाहूंगी कि ये अपने फायदे के लिए उनकी फांसी को रोके हैं.'

उन्होंने आगे कहा, 'हमें मोहरा बनाया. इन लोगों के बीच में मैं पिस रही हूं. मैं यही कहना चाहती हूं खासकर प्रधानमंत्री जी से कि आपने 2014 में बोला था कि बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार मोदी सरकार. मैं हाथ जोड़कर कहना चाहती हूं कि एक बच्ची की मौत के साथ मजाक मत होने दीजिए और चारों मुजरिमों को 22 तारीख को फांसी पर लटकाइए और समाज को दिखाइए कि हम समाज के रखवाले हैं, हम महिलाओं को सुरक्षा दे सकते हैं.'

VIDEO: उम्मीद है 22 जनवरी को ही होगी दोषियों को फांसी - निर्भया की मां