NDTV Khabar

निर्भया गैंगरेप के दो मुजरिमों ने सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा याचिका दायर की

16 दिसंबर 2012 के बहुचर्चित गैंगरेप एवं मर्डर मामले के चार मुजरिमों में दो ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंचकर उनके मृत्युदंड को सही ठहराने वाले उसके फैसले की समीक्षा करने का अनुरोध किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
निर्भया गैंगरेप के दो मुजरिमों ने सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा याचिका दायर की

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: 16 दिसंबर 2012 के बहुचर्चित गैंगरेप एवं मर्डर मामले के चार मुजरिमों में दो ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंचकर उनके मृत्युदंड को सही ठहराने वाले उसके फैसले की समीक्षा करने का अनुरोध किया. विनय शर्मा और पवन कुमार गुप्ता ने समीक्षा याचिकाएं ऐसे समय दायर की हैं जब महज 12 दिसंबर को शीर्ष अदालत ने मृत्यु की सजा वाले अन्य मुजरिम मुकेश की समीक्षा याचिका पर सुनवाई पूरी की.

यह भी पढ़ें - निर्भया गैंगरेप: SC ने कहा- हमने हिमालय जैसे सब्र के साथ सुना पूरा केस, बहस की 10 बातें

टिप्पणियां
बता दें कि 16 दिसंबर, 2012 को दक्षिण दिल्ली में चलती बस में 23 साल की एक पैरामेडिकल छात्रा से छह व्यक्तियों ने सामूहिक बलात्कार किया, उस पर गंभीर हमला किया और उसे बस से निर्वस्त्र फेंक दिया. बाद में वह सिंगापुर के एक अस्पताल में चल बसी. शीर्ष अदालत ने इस कांड में पांच मई को चार मुजरिमों- मुकेश (29), पवन (22), विनय शर्मा (23) और अक्षय कुमार सिंह (31) मिले मृत्युदंड को सही ठहराया था. इस मामले में एक अन्य आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ जेल में कथित रुप से खुदकुशी कर ली थी तथा एक नाबालिग आरोपी तीन साल तक सुधार गृह में रहकर बाहर निकला.

VIDEO: सुप्रीम कोर्ट का फैसला देश के लिए एक बड़ा संदेश- निर्भया के पिता


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement