वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इतिहासकार रामचंद्र गुहा से क्यों कहा, 'अर्थव्यवस्था सुरक्षित हाथों में है?'

देश के मशहूर इतिहासकार रामचंद्र गुहा (Ramachandra Guha) के एक ट्वीट पर पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (Vijay Rupani) और अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने जवाब दिया है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इतिहासकार रामचंद्र गुहा से क्यों कहा, 'अर्थव्यवस्था सुरक्षित हाथों में है?'

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर इतिहासकार रामचंद्र गुहा को जवाब दिया. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • रामचंद्र गुहा ने गुजरात पर किया था ट्वीट
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया जवाब
  • विजय रूपाणी ने भी ट्वीट कर दिया था जवाब
नई दिल्ली:

देश के मशहूर इतिहासकार रामचंद्र गुहा (Ramachandra Guha) के एक ट्वीट पर पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (Vijay Rupani) और अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने जवाब दिया है. गुहा ने ब्रिटिश लेखक फिलिप स्प्रैट की 1939 की एक टिप्पणी का हवाला देते हुए एक ट्वीट किया था. जिसके बाद वित्त मंत्री ने 2018 में पब्लिश की गई एक खबर का वेबलिंक पोस्ट करते हुए लिखा, 'कम्युनिस्ट इंटरनेशनल से जुड़े ब्रिटेन वासी फिलिप स्प्रैट ने जब यह लिखा तब गुजरात में ये हो रहा था. जामनगर...महाराजा जाम साहेब दिग्विजय सिंह जी जडेजा ने पोलैंड के 1000 बच्चों को बचाया #संस्कृति.'

इसके बाद रामचंद्र गुहा ने ट्वीट किया, 'मुझे लगता था कि केवल गुजरात के मुख्यमंत्री ने टिप्पणी की लेकिन अब ऐसा लगता है कि वित्त मंत्री को भी एक साधारण इतिहासकार का ट्वीट सता रहा है. अर्थव्यवस्था निश्चित रूप से सुरक्षित हाथों में है.' जवाब में वित्त मंत्री ने लिखा, 'अर्थव्यवस्था निश्चित रूप से सुरक्षित हाथों में है. चिंता करने की जरूरत नहीं है श्रीमान गुहा. मौजूदा राष्ट्रीय चर्चा पर विचारों का संज्ञान लेना और जिम्मेदारी से अपना काम करना कोई विशेष बात नहीं है. किसी भी रूप से इतिहास में रूचि एक बढ़त है. निश्चित रूप से आपके जैसे बुद्धिजीवी व्यक्ति को यह समझ में आना चाहिए.'

बता दें कि यह ट्विटर वॉर रामचंद्र गुहा के उस ट्वीट से शुरू हुई, जिसमें उन्होंने ब्रिटिश लेखक फिलिप स्प्रैट की 1939 में लिखी पंक्तियों का हवाला देते हुए लिखा था, 'गुजरात हालांकि, आर्थिक रूप से मजबूत है लेकिन सांस्कृतिक रूप से पिछड़ा हुआ है. वहीं इसके उलट बंगाल आर्थिक रूप से पिछड़ा हुआ है, लेकिन सांस्कृतिक रूप से समृद्ध है.'

गुहा के इस ट्वीट पर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भड़क गए. उन्होंने ट्वीट किया, 'पहले अंग्रेज जिन्होंने बांटने की कोशिश की और राज किया. अब कुछ बुद्धिजीवियों का समूह है, जो भारतीयों को बांटना चाहता है. भारतीय इनकी चाल मे नहीं फंसेंगे. गुजरात महान है, बंगाल महान है. भारत एकजुट है. हमारी सांस्कृतिक नींव मजबूत है और हमारी आर्थिक महत्वाकांक्षाएं ऊंची हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : पैकेज का पिटारा खुल गया या पिट गया?