RSS प्रमुख से मिलने नागपुर पहुंचे नितिन गडकरी बोले- शिवसेना से बात हो रही है, फडणवीस को ही बनना चाहिए CM

यह सब कुछ ऐसे समय हो रहा है जब सीएम बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने जा रहा है.

नागपुर:

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर भाजपा और शिवसेना के बीच चल रही तनातनी के बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर आनन-फानन में नागपुर पहुंचे हैं. नागपुर पहुंचने के बाद उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जल्द ही फैसला हो जाएगा. भाजपा ने नेता देवेंद्र फडनवीस को चुना है, तो ऐसे में उनके नेतृत्व में ही सरकार बननी चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि शिवसेना से बातचीत हो रही है, जल्द ही समाधान निकाला जाएगा. जब उनसे महाराष्ट्र सरकार में नेतृत्व करने के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली में ही हूं, मुझे महाराष्ट्र आने की जरूरत नहीं है. बता दें, नागपुर में गडकरी संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करेंगे. 

आपको बता दें यह सब कुछ ऐसे समय हो रहा है जब सीएम बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने जा रहा है. नितिन गडकरी का नाम भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के लेकर चल रहा है और कहा जा रहा है कि वह शिवसेना के साथ जारी गतिरोध को खत्म कर सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि शिवसेना नेता सीएम देवेंद्र फडणवीस के रवैये से काफी नाराज हैं जिन्होंने खुलकर उनकी 50-50 को खारिज कर दिया है. 

'तुम्हारे पैरों के नीचे ज़मीन नहीं...', शिवसेना नेता संजय राउत के नए ट्वीट के क्या हैं मायने? 

वहीं, शिवसेना के नेता संजय राउत ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बीच अब तक कोई बातचीत नहीं हुई है. राउत ने ठाकरे की शिवसेना विधायकों के साथ बैठक से पहले मीडिया से कहा कि उनकी पार्टी और विपक्षी कांग्रेस एवं राकांपा के विधायक ‘पाला नहीं बदलेंगे'. साथ ही राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा, ‘भागवत और ठाकरे के बीच अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है.'

महाराष्ट्र में सत्ता संघर्ष के बीच अपने विधायकों को होटल में शिफ्ट कर सकती है शिवसेना

यह पूछे जाने पर कि राज्य में सरकार गठन को लेकर बने गतिरोध के बीच क्या उनके विचार पार्टी के विचारों का प्रतिनिधित्व करते हैं, उन्होंने कहा, ‘मैंने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के विचारों को सामने रखा.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

क्या अयोध्या पर आने वाले फैसले की वजह से शिवसेना के साथ जाने से हिचक रहे हैं कांग्रेस-NCP?

VIDEO: BJP का प्रतिनिधिमंडल आज राज्यपाल से करेगा मुलाकात