ऑटो सेक्टर में छाई मंदी के बीच बोले नितिन गडकरी- पेट्रोल-डीजल से चलने वाले वाहनों को बंद करने का कोई इरादा नहीं

ऑटो सेक्टर में छाई मंदी पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि नौकरी जाने की समस्या हमें पता है. हम भी मंदी का सामना कर रहे हैं. भारत एक उभरती अर्थव्यवस्था है जिसमें ऑटो सेक्टर ने बड़ी मात्रा में रोजगार दिया है.

ऑटो सेक्टर में छाई मंदी के बीच बोले नितिन गडकरी- पेट्रोल-डीजल से चलने वाले वाहनों को बंद करने का कोई इरादा नहीं

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

ऑटो सेक्टर में छाई मंदी पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि नौकरी जाने की समस्या हमें पता है. हम भी मंदी का सामना कर रहे हैं. भारत एक उभरती अर्थव्यवस्था है जिसमें ऑटो सेक्टर ने बड़ी मात्रा में रोजगार दिया है. उन्होंने कहा कि यह गलतफहमी है कि सरकार पेट्रोल और डीजल वाहनों को बंद करने जा रही है. गडकरी ने कहा कि प्रदूषण कम करना हमारी प्राथमिकता है. दिल्ली में भी 20 फीसदी प्रदूषण कम हुआ है.  हमने ऑटो सेक्टर से इंजन बीएस4 से बीएस 6 में जाने के लिए कहा है और इस इंडस्ट्री से जुड़े लोग भी माने हैं. गडकरी ने कहा कि हम चाहते हैं कि आप फाइनेंस कंपनी के विकल्प के तौर पर आएं तो ऑटो सेक्टर में और तेजी आएगी. 

आर्थिक मंदी का मारुति पर असर : 2 दिन बंद रहेंगे गुड़गांव और मानेसर प्लांट

नितिन गडकरी ने कहा कि अगर आपकी मांग है कि पेट्रोल और डीजल के टैक्स में कमी की जाए तो इस बात को हम वित्त मंत्री के सामने उठाएंगे. भारत ऑटो सेक्टर का हब बनने जा रहा है. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री गडकरी ने ऑटो सेक्टर को यह भी नसीहत दी कि क्वालिटी पर जोर हो न कि कीमत पर. गडकरी ने कहा कि भारत में पब्लिक ट्रांसपोटेशन में कमी है हमें लन्दन ट्रांसपोटेशन मॉडल को देखना होगा क्योंकि इसकी मांग भारत में है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्राइम टाइम: क्या बीते 20 साल की सबसे बड़ी मंदी की चपेट में है ऑटो सेक्टर?​