NDTV Khabar

बाढ़ की मार झेल रहे केरल की मदद को आगे आए कई मुख्यमंत्री, इन राज्यों ने किया मदद का ऐलान

बाढ़ की विभीषिका से केरल की कमट टूट गई है. केरल में भायावह बाढ़ से हाहाकार मचा है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाढ़ की मार झेल रहे केरल की मदद को आगे आए कई मुख्यमंत्री, इन राज्यों ने किया मदद का ऐलान

Kerala Floods: केरल में बाढ़

नई दिल्ली:

बाढ़ की विभीषिका से केरल की कमट टूट गई है. केरल में भायावह बाढ़ से हाहाकार मचा है. खुद राज्य के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन मदद की गुहार लगा रहे हैं. केंद्र सरकार पूरी तरह से मदद कर रही है. अब कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों की ओर से भी मदद की घोषणा की जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में बाढ़ की विभीषिका की समीक्षा करने के बाद केरल को तत्काल 500 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की है.

यूएई ने कहा- केरल हमारी सफलता का सहभागी, बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए बढ़ाया हाथ

वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बाढ़ की मार झेल रहे केरल को मदद का ऐलान किया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री रातह कोष से बाढ़ से तबाह केरल के लिए 10 करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की है. वहीं, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बाढ़ प्रभावित केरल के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से पांच करोड़ रुपये की घोषणा की. साथ ही उन्होंने यह भी ऐलान किया कि 245 दमकल कर्मी नाव के साथ केरल बचाव कार्य के लिए भेजे जाएंगे.


राहुल गांधी ने की पीएम मोदी से केरल में आई बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

इससे अलावा, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी बाढ़ से तबाह केरल के लिए 10 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की है. इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में बताया कि मोदी ने सभी मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि और गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से भी देने की घोषणा की है.इसके अलावा, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बाढ़ की मार झेल रहे केरल को 6 करोड़ रुपये की मदद का ऐलान किया है. 

टिप्पणियां

बाढ़ से तबाह केरल की मदद को आगे आया SBI, संकट से घिरे राज्य को दान में दिये 2 करोड़ रुपये

बयान में कहा गया है, 'प्रधानमंत्री ने राज्य को 500 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की है. यह राशि 12 अगस्त को गृह मंत्रालय द्वारा 100 करोड़ रुपये की देने की घोषणा से अलग है.' कोच्चि में एक उच्च स्तरीय बैठक की समीक्षा के बाद प्रधानमंत्री ने बाढ़ से प्रभावित कुछ क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया. बाढ़ की तबाही से जूझ रहे अलुवा-त्रिशुर क्षेत्र के हवाई सर्वेक्षण के दौरान प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल पी सदाशिवम, मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन, केंद्रीय मंत्री के जे अल्फोंस और अन्य अधिकारी मौजूद थे.



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement