नीतीश के बाद मंत्रियों ने की संपत्ति की घोषणा

खास बातें

  • नीतीश सरकार में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रशांत कुमार शाही सबसे अमीर हैं। उनके पास साढ़े चार करोड़ रुपये मूल्य की चल और अचल संपत्ति है।
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों के संपत्ति के ब्यौरे सरकार ने सोमवार को वेबसाइट पर सार्वजनिक कर दिए, जिसमें नीतीश कुमार धन दौलत के मामले में अपने मंत्रियों से बहुत पीछे हैं। नीतीश सरकार में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रशांत कुमार शाही सबसे अमीर हैं। उनके पास साढ़े चार करोड़ रुपये मूल्य की चल और अचल संपत्ति है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पुत्र निशांत की संपत्ति का ब्यौरा भी वेबसाइट पर सार्वजनिक किया गया है। मंत्रियों की संपत्ति की घोषणा को भ्रष्टाचार के खिलाफ नीतीश सरकार का एक बड़ा कदम कहा जा रहा है। नीतीश कुमार की चल संपत्ति में 31 हजार 760 रुपये नकद 57,770 बैंक में जमा शामिल है। उनके पास 2003 वर्ष की एक सैंट्रो कार, एक पुराना टीवी सेट, एक पुराना एयर कंडीशनर, एक फ्रिज, एक कूलर, गाय और एक बछड़ा है, जिसका कुल मूल्य एक लाख 67 हजार रुपये है। मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली में संसद विहार इलाके में एक घर का भी ब्यौरा दिया है, जिसका मूल्य 40 लाख रुपये है। इसके अलावा उनके पास वहां 34,475 रुपये मूल्य का एक कंप्यूटर और एक ट्रेडमील है। मुख्यमंत्री ने भारतीय स्टेट बैंक की सचिवालय शाखा से एक लाख 93 हजार रुपये का ऋण भी ले रखा है। नीतीश के पुत्र निशांत के पास एक लाख 76 हजार रुपये नकद, 41 लाख रुपये बैंक में जमा है और उन्होंने 13.93 लाख रुपये डाकघर की विभिन्न योजनाओं में निवेश किया है। निशांत के पास बख्तियारपुर में कल्याणबिगहा में 31.34 लाख रुपये मूल्य की कृषि भूमि है और वह 8.27 लाख रुपये के आवासीय व्यावसायिक भूमि के मालिक है। इसके अलावा उनके पास राजधानी पटना में 1.31 लाख रुपये मूल्य की एक इमारत है। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के पास करीब 26 हजार रुपये नकद है। बैंकों में उन्होंने करीब 10.56 लाख रुपये जमा रखे हैं। बंधपत्र, शेयर के रूप में 1.83 लाख रुपये का निवेश और एलआईसी तथा एनएससी में 1.89 लाख रुपये का निवेश मोदी ने किया है। मोदी और उनकी पत्नी के नाम पर संयुक्त रूप से उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर में करीब 51 लाख रुपये का मकान है। मोदी ने नई दिल्ली में आईसीआईसीआई बैंक से 40 लाख रुपये का कर्ज ले रखा है। उनके ऊपर ढाई लाख रुपये और संबंधियों पर 10.70 लाख रुपये का सरकारी कर्ज है। उपमुख्यमंत्री की पत्नी और उनके पुत्र के पास 6.84 लाख रुपये के आभूषण, करीब 15 लाख रुपये बैंक जमा और 5.28 लाख रुपये के एनएससी और अन्य प्रमाणपत्र है। नीतीश सरकार में 29 मंत्रियों में सबसे अधिक अमीर मानव संसाधन विकास मंत्री पीके शाही हैं। पेशे से वकील महाधिवक्ता के बाद अब मंत्री बने शाही के पास करीब साढ़े चार करोड़ रुपये की चल और अचल संपत्ति है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com