लद्दाख में चीन से हुई झड़प पर बोले PM मोदी- 'हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा'

चीन के साथ झड़प पर पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि हम किसी को कभी उकसाते नहीं हैं, लेकिन अपनी संप्रभुता और अखंडता से भी कोई समझौता नहीं करते हैं.

नई दिल्ली:

PM Narendra Modi On Ladakh Face-Off: मुख्यमंत्रियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय सेना की चीन के साथ हुई झड़प पर बयान दिया है. पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा का जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि हम किसी को कभी उकसाते नहीं हैं, लेकिन अपनी संप्रभुता और अखंडता से भी कोई समझौता नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि जब भी समय आया है, हमने देश की अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है, अपनी क्षमताओं को साबित किया है. उन्होंने कहा कि मैं देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. हमारे लिए भारत की अखंडता और संप्रुभता सर्वोच्च है और इसकी रक्षा करने से हमें कोई रोक नहीं सकता. इस बारे में किसी भी जरा भी संदेह नहीं होना चाहिए.

उन्होंने कहा कि भारत शांति चाहता है लेकिन उकसाने पर यथोचित जवाब देने में सक्षम है. उन्होंने कहा कि देश को इस बात का गर्व होना चाहिए कि हमारे जवानों ने मारते-मारते जान गंवाई है. इसके बाद पीएम मोदी ने सभी मुख्यमंत्रियों से दो मिनट का मौन रखने को कहा और खुद भी खड़े होकर उनका नमन किया. प्रधानमंत्री मोदी देश में कोरोना के हालात पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्रियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक कर रहे थे. बता दें कि सोमवार रात को लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में 20 जवानों की जान चली गई है. 

मालूम हो कि भारत-चीन सीमा क्षेत्र में मौजूदा हालात पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. पूर्वी लद्दाख में बीती सोमवार की रात भारतीय सेना के जवानों की चीनी सेना के जवानों के साथ हिंसक झड़प हो गई थी, जिसमें 20 भारतीय जवानों की जान चली गई है, जिससे कि पहले से सीमा पर चल रहा तनाव और नाजुक स्थिति में आ गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को शाम पांच बजे बुलाई गई इस मीटिंग में आगे की परिस्थितियों पर चर्चा करेंगे.

इसके पहले पीएम ने झड़प की पुष्टि होने के बाद मंगलवार देर रात तक देश के सर्वोच्च राजनैतिक नेतृत्व और सेनाप्रमुख के साथ बैठक की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, विदेशमंत्री एस. जयशंकर, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण और थलसेना प्रमुख जनरल एम.एम. नरवणे के बीच रात 10 बजे मुलाकात हुई थी.

Newsbeep

बता दें कि सोमवार की रात में पूर्वी लद्दाख की गालवान घाटी में भारतीय-चीनी सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हुई है, जिसमें 20 भारतीय जवानों ने जान गंवाई है. न्यूज एजेंसी ANI ने सूत्रों के हवाले से इंटरसेप्ट के आधार पर हासिल जानकारी में बताया कि झड़प में 43 चीनी सैनिक भी मारे गए हैं, या गंभीर रूप से घायल हुए हैं, हालांकि भारतीय सेना ने अपने बयान में इसका ज़िक्र नहीं किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: चीन के साथ सीमा विवाद पर चर्चा के लिए पीएम मोदी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक