NDTV Khabar

भारत से बेईमानी करने वाला न तो कहीं भाग सकता है और न ही दुनिया में कहीं छिप सकता है: जेटली

जेटली ने यह टिप्पणी ऐसे समय की जब दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना और कारपोरेट उड्डयन लॉबिस्ट दीपक तलवार को भारत लाया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत से बेईमानी करने वाला न तो कहीं भाग सकता है और न ही दुनिया में कहीं छिप सकता है: जेटली

अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शासन में ईमानदारी की संस्कृति शुरू की है और भारत से बेईमानी करने वाला कोई व्यक्ति दुनिया में कहीं भी न तो छिप सकता है और ना ही कहीं भाग सकता है. जेटली ने यह टिप्पणी ऐसे समय की जब दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना और कारपोरेट उड्डयन लॉबिस्ट दीपक तलवार को भारत लाया गया. उन्हें प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया है. जेटली ने ट्वीट करके कहा कि संप्रग के बारे में हर दिन नये खुलासे हो रहे हैं. सभी रक्षा खरीदों में बिचौलियों की जरूरत क्यों थी?

राफेल सौदे घोटाले के आरोप झेल रही बीजेपी अब अगस्ता-वेस्टलैंड डील को बना रही है बड़ा मुद्दा, योगी और फडणवीस ने खोला मोर्चा


सक्सेना 3600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकाप्टर धन शोधन मामले में वांछित है जबकि तलवार विदेशी फंडिंग के रास्ते लिये गये 90 करोड़ रुपये से अधिक के कथित दुरुपयोग के मामले में ईडी और सीबीआई द्वारा वांछित है. जेटली ने कहा, ‘‘भारत से बेईमानी करने वाला न तो दुनिया में कहीं छिप सकता है और ना ही कहीं भाग सकता है. भारत की कूटनीतिक ताकत और पहले से बेहतर अंतरराष्ट्रीय प्रक्रियाएं उन्हें हर हाल में पकड़ेंगी.''

अगस्ता वेस्टलैंड मामले पर कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछे 6 सवाल, कहा-दागदार निकला चौकीदार

उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री ईमानदार हैं और अगर उन्होंने शासन में ईमानदारी की संस्कृति शुरू की है तो भारत से बेईमानी करने वाला कोई व्यक्ति भाग नहीं सकता. बता दें कि अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण के करीब दो महीने बाद जांच एजेंसियां दो और आरोपियों को संयुक्त अरब अमीरात से नई दिल्ली लेकर आईं. दुबई स्थित अकाउंटेंट राजीव सक्सेना और कॉरपोरेट लॉबिस्ट दीपक तलवार को एक विशेष विमान में कथित तौर पर प्रवर्तन निदेशालय, वरिष्ठ विदेश मंत्रालय के अधिकारियों और अनुसंधान और विश्लेषण विंग या रॉ के अधिकारियों की एक टीम द्वारा भारत वापस लाया गया.

अगस्ता वेस्टलैंड केसः क्रिश्चियन मिशेल पर ED के बयान से बीजेपी-कांग्रेस में मचा घमासान

टिप्पणियां

राजीव सक्सेना को धन शोधन के आरोपों में उनकी भूमिका की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को सौंपा गया है. अकाउंटेंट का भी काम करने वाले सक्सेना को दुबई के अधिकारियों द्वारा ईडी के आग्रह पर एक अदालत के गैरजमानती वारंट जारी करने के आधार पर भारत भेजा गया. इस मामले में सह आरोपी और कथित बिचौलिये ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन जेम्स मिशेल को पिछले साल दिसंबर में दुबई से प्रत्यर्पित करके भारत लाया गया था. वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में है.

Video: छोटे कारोबारियों को राहत, 40 लाख से कम कारोबार GST से बाहर​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement