'हेपेटाइटिस सी वायरस की खोज' के लिए चिकित्सा का नोबेल हार्वे जे. ऑल्टर, माइकल हॉफटन, चार्ल्स एम. राइस को

'हेपेटाइटिस सी वायरस की खोज' के लिए इस साल का नोबेल पुरस्कार हार्वे जे. ऑल्टर,माइकल हॉफटन, चार्ल्स एम. राइस को दिया गया है.

'हेपेटाइटिस सी वायरस की खोज' के लिए चिकित्सा का नोबेल हार्वे जे. ऑल्टर, माइकल हॉफटन, चार्ल्स एम. राइस को

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

'हेपेटाइटिस सी वायरस की खोज' के लिए इस साल का नोबेल पुरस्कार हार्वे जे. ऑल्टर(Harvey Alter), माइकल हॉफटन (Michael Houghton), चार्ल्स एम. राइस (Charles Rice) को दिया गया है. बताते चले कि फिजियोलॉजी या मेडिसिन में/ शरीरक्रिया विज्ञान या चिकित्सा में नोबेल पुरस्कार जीवन विज्ञान और चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट खोज करने वाले वैज्ञानिकों या विज्ञान संस्थाओं को वार्षिक रूप से दिया जाता है. साल 2019 में अमेरिका के विलियम जी. केलिन जूनियर और ब्रिटेन के सर पीटर जे. रेटक्लिफ और अमेरिका के ग्रेग एल सेमेन्जा को संयुक्त रूप से यह प्रतिष्ठित सम्मान दिया गया था. गौरतलब है कि हेपेटाइटिस सी लोगों में सिरोसिस और यकृत कैंसर का कारण बनता है.   

Newsbeep

नोबेल फाउंडेशन द्वारा स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में  में शुरू किया गया यह शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में विश्व का सर्वोच्च पुरस्कार है. इस पुरस्कार के रूप में प्रशस्ति-पत्र के साथ 10 लाख डालर की राशि प्रदान की जाती है. अल्फ्रेड नोबेल ने कुल 355 आविष्कार किए जिनमें. डायनामाइट का आविष्कार भी था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:नोबल पुरस्कार विजेता मो. युनूस ने की राहुल गांधी से बातचीत