बिना सब्सिडी वाला LPG सिलेंडर हुआ 50 रुपये से ज्यादा सस्ता

होली के त्योहार से पहले जनता को बड़ी राहत मिली है. तेल कंपनियों ने बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर (Non-subsidised LPG Cylinder Price) की कीमत में बड़ी कटौती की है.

बिना सब्सिडी वाला LPG सिलेंडर हुआ 50 रुपये से ज्यादा सस्ता

घरेलू गैस सिलेंडर 53 रुपये सस्ता हो गया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • होली से पहले जनता को मिली राहत
  • बिना सब्सिडी वाला सिलेंडर सस्ता
  • 53 रुपये सस्ता हुई रसोई गैस सिलेंडर
नई दिल्ली:

होली के त्योहार से पहले जनता को बड़ी राहत मिली है. तेल कंपनियों ने बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर (Non-subsidised LPG Cylinder Price) की कीमत में बड़ी कटौती की है. आज से (1 मार्च) बगैर सब्सिडी वाला 14.2 किलोग्राम का रसोई गैस सिलेंडर 53 रुपये सस्ता हो गया है. वहीं, 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल सिलेंडर के दाम में भी 85 रुपये की कटौती की गई है.

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के अनुसार, दिल्ली और मुंबई में बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर पर 53 रुपये की कटौती की गई है. नई कीमतें आज से लागू हो गई हैं. नई दरों के मुताबिक, 1 मार्च 2020 से दिल्ली में बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत 805.50 रुपये हो गई है. वहीं, मुंबई में अब यह सिलेंडर 776.50 रुपये का मिलेगा. इससे पहले दिल्ली में इसकी कीमत 858.50 रुपये और मुंबई में 829.50 रुपये थी.

रिपोर्ट में खुलासा : उज्ज्वला योजना से LPG सिलेंडर तो घरों तक पहुंचे लेकिन इस्तेमाल बढ़ाने में नहीं मिली मदद

इंडियन ऑयल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, दिल्ली में आज से कमर्शियल सिलेंडर (19 किलोग्राम) की नई कीमत 1,381.50 रुपये होगी. मुंबई में यह 1,331 रुपये का मिलेगा. पहले दिल्ली में यह सिलेंडर 1,466 रुपये और मुंबई में 1,540.50 रुपये का मिलता था.

रेल किराये और LPG सिलेंडर की कीमत बढ़ाने पर कांग्रेस का सरकार पर हमला, कहा- 'आम जनता की...'

बीती 19 फरवरी को पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने मार्च में सिलेंडर के दामों में कमी से संकेत दिए थे. फरवरी में बढ़ाई गई सिलेंडर की कीमत पर उन्होंने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय बाजार की वजह से यह दाम बढ़ाए गए हैं. बताते चलें कि पिछले साल अगस्त के बाद से 6 बार रसोई गैस के दाम बढ़ाए जाने के बाद यह पहली बड़ी कटौती है. दरअसल अगस्त 2019 से लेकर फरवरी 2020 तक एलपीजी सिलेंडर के दामों में 6 बार बढ़ोतरी की गई. यह बढ़ोतरी करीब 50 फीसदी तक रही.

रसोई गैस हुई महंगी, प्रति सिलिंडर 144.50 रुपये की भारी-भरकम वृद्धि

गौरतलब है कि भारत सरकार रसोई गैस के हर कनेक्शन पर एक साल में 12 सिलेंडरों पर सब्सिडी देती है. 12 सिलेंडर के बाद उपभोक्ताओं को बाजार दर से सिलेंडर (बिना सब्सिडी वाला सिलेंडर) खरीदना होता है. तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से गैस सिलेंडर की कीमतें तय करती हैं, लिहाजा इसके दाम में उतार-चढ़ाव होते रहता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: 2020 की महंगी शुरूआत, गैस सिलेंडर, रेलवे टिकट और विमान का ईंधन महंगा