पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह बोले- 'काम को लेकर सोनिया गांधी पर और दबाव डालना अच्छा नहीं क्योंकि...'

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने गुरुवार को साफ कर दिया कि वह राष्ट्रीय राजनीति के लिए पंजाब को छोड़ना नहीं चाहते हैं. इसके साथ ही उन्होंने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के कांग्रेस का नेतृत्व करने का समर्थन किया.

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह बोले- 'काम को लेकर सोनिया गांधी पर और दबाव डालना अच्छा नहीं क्योंकि...'

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh)

चंडीगढ़:

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने गुरुवार को साफ कर दिया कि वह राष्ट्रीय राजनीति के लिए पंजाब को छोड़ना नहीं चाहते हैं. इसके साथ ही उन्होंने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के कांग्रेस का नेतृत्व करने का समर्थन किया. अपनी सरकार के तीन साल पूरे होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा, अगले नेतृत्व का मामला कांग्रेस कार्यसमिति में निहित है और हर कोई चाहता है कि 130 साल पुरानी पार्टी में फिर जान फूंकी जाए और वह अपनी पुरानी प्रतिष्ठा और जमीन वापस हासिल करे. अमरिंदर सिंह ने कहा, 'राहुल गांधी में निश्चित तौर पर एक नेता के रूप में पार्टी को आगे ले जाने की क्षमता है. हालांकि, वह पार्टी की बागडोर नहीं संभालने पर जोर दे रहे हैं.'

राजस्थान : सचिन पायलट का बयान क्या सोनिया और राहुल गांधी के लिए है नसीहत?

नए नेतृत्व की जरूरत को रेखांकित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह उचित नहीं होगा कि सोनिया गांधी (Sonia Ganhi) पर और दबाव बनाया जाए, जो अस्वस्थ्य हैं. अमरिंदर सिंह ने कहा, 'कई साल तक सोनिया गांधी के साथ काम करने के दौरान मैंने पाया कि वह अच्छी नेता हैं जो प्रबंधन के नए विचारों में विश्वास करती हैं और व्यक्ति को जिम्मेदारी सौंपने के बाद उसे पूरा समर्थन देती हैं. यदि जिम्मेदारी अच्छे से निभाई जाती है तो यह समर्थन लगातार जारी रहता है अन्यथा उसे बाहर कर दिया जाता है.

MP में चल रहे सियासी घमासान के बीच राहुल गांधी ने PM मोदी से कहा- आप कांग्रेस की सरकार गिराने में बिजी हैं, उधर...

उन्होंने कहा कि देश की 70 फीसदी आबादी युवा है और युवा नेतृत्व की जरूरत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है एवं राहुल इस जिम्मेदारी को निभाने में सक्षम हैं. मुख्यमंत्री ने कहा, 'हार और जीत राजनीति का हिस्सा है और राहुल को एक हार (2019 लोकसभा चुनाव) से खुद को पीछे हटने नहीं देना चाहिए.' उन्होंने कहा, 'मुझे दो चुनाव में हार मिली लेकिन मैं अगर घर जाकर बैठ जाता तो आज वहां नहीं होता जहां आज हूं.'

मध्यप्रदेश राजनीतिक संकट: डैमेज कंट्रोल में जुटी कांग्रेस, राहुल गांधी ने दस जनपथ जा कर सोनिया गांधी से की मुलाकात

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को अनुभवी और दृढ़ युवा महिला बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनमें मां और दादी दोनों के गुण हैं. उन्होंने कहा कि राहुल और प्रियंका सख्त लेकिन बहुत विनम्र हैं. मुख्यमंत्री ने मध्यप्रदेश के घटनाक्रम को 'आया राम गया राम' करार देते हुए कहा निश्चित रूप से इस पूरे घटनाक्रम में पैसा शामिल है, लेकिन यह भारतीय लोकतंत्र के काम करने का तरीका नहीं है.' उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों का शिकार करना चुनी हुई सरकार को सत्ता से बेदखल करने का निंदनीय तरीका है और ऐसी कोशिशें लोकतंत्र की प्रणाली को कमजोर करती हैं.

क्रिकेटर और पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह के बारे में अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि उनके दिमाग में क्या है. उन्होंने कहा मौजूदा समय में वह निश्चित तौर पर कांग्रेस पार्टी का हिस्सा हैं और उन्हें उनके साथ काम करने में कोई परेशानी नहीं है. अमरिंदर ने सिद्धू को आकर्षक व्यक्ति करार देते हुए कहा कि वह उन्हें बचपन से जानते हैं.  

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com