“मैं यहां नाम बदलने नहीं आया हूं”, असदुद्दीन ओवैसी का बिना नाम लिए बीजेपी पर तंज

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर से लखनऊ में मुलाकात की.

“मैं यहां नाम बदलने नहीं आया हूं”, असदुद्दीन ओवैसी का बिना नाम लिए बीजेपी पर तंज

असदुद्दीन ओवैसी ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर से लखनऊ में मुलाकात की.

लखनऊ:

 एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी बिहार चुनाव के बाद अपनी जमीन यूपी में तलाश रहे हैं. हाल ही में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन से उत्साहित ओवैसी 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी को मजबूत करने में जुट गए हैं. इसी सिलसिले में बुधवार को असदुद्दीन ओवैसी ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर से लखनऊ में मुलाकात की है.

मुलाकात के दौरान ओवैसी ने कहा कि हम दोनों आप के सामने बैठे हुए हैं. हम एक साथ हैं और राजभर जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने को तैयार हैं. कानपुर रोड स्थित एक होटल में राजभर और ओवैसी की मुलाकात आधे घंटे चली. इस बीच दोनों प्रमुखों ने संकेत दिया कि 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव के लिए मोर्चे में अन्य दलों को भी शामिल किया जा सकता है. ओवैसी ने कहा कि हम 2022 में संयुक्त भागीदारी मोर्चा मिलकर चुनाव लड़ेंगे.

'नरेंद्र मोदी को भी लाकर आजमा लो', हैदराबाद की लड़ाई में असदुद्दीन ओवैसी ने BJP को ललकारा

वहीं, राजभर ने सपा, बसपा व कांग्रेस नेताओं द्वारा लगाए जा रहे वोट कटवा होने जैसे आरोपों पर कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा कि प्रदेश में अगली सरकार भागीदारी मोर्चा की ही बनेगी. उनका कहना था कि ऐसे आरोप डरें हुए लोग ही लगा रहे हैं. ओवैसी ने कहा, “आने वाले दिनों में हमारा कारवां और आगे बढ़ेगा. मैं नाम बदलने नहीं, दिलों को जीतने आया हूं।” बता दें कि उनका यह तंज भाजपा के लिए था. दरअसल, हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भाजपा ने हैदराबाद का नाम भाग्य नगर करने का वादा किया था.

"घिनौना" : असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी मंत्री की "नो मुस्लिम" टिप्पणी पर कहा
 


ओवैसी ने ममता बनर्जी द्वारा लगाए गए आरोपों का भी जवाब दिया. ओवैसी ने ट्वीट किया कि मुस्लिम मतदाता उनकी (ममता की) ‘जागीर' नहीं है. ओवैसी ने कहा, “कोई भी उन्हें पैसे से नहीं खरीद सकता है. अब तक आपने केवल आज्ञाकारी मीर जाफर्स और सादिक से डील किया है. आप उन मुसलमानों को पसंद नहीं करती हैं जो अपने लिए सोचते और बोलते हैं.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बिहार में बीजेपी ने सुशील मोदी के बिना भविष्य की रणनीति बनानी शुरू की