यह ख़बर 12 सितंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

विनोद राय के बाद अब कमलनाथ ने कहा, हो सकता है कि मनमोहन ने गलती की हो

विनोद राय के बाद अब कमलनाथ ने कहा, हो सकता है कि मनमोहन ने गलती की हो

कमलनाथ की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

2-जी मुद्दे पर मनमोहन सिंह के खिलाफ पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) विनोद राय के हमले के बाद शुक्रवार को कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि हो सकता है उनके उस पत्र के बावजूद कार्रवाई न कर पूर्व प्रधानमंत्री ने 'गलती' की हो, जिसमें उन्होंने स्पेक्ट्रम आवंटन प्रक्रिया पर चिंता जताई थी।

एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ से जब यह पूछा गया कि क्या तत्कालीन प्रधानमंत्री ने कोई गलती की थी, तो उन्होंने कहा, 'हो सकता है उन्होंने गलती की हो। मैं आपकी बात से सहमत हूं। मैंने इस ओर उनका ध्यान दिलाया था। उन्होंने अहमियत नहीं समझी और उन्होंने कार्रवाई नहीं की।'
कमलनाथ ने कहा, 'मैं इस बात से निराश था कि प्रधानमंत्री ने कार्रवाई नहीं की, पीछे मुड़कर देखने से लगता है कि गंभीरता का पता नहीं था। यह मुझे और प्रधानमंत्री को नहीं पता था। यह कहना अनुचित होगा कि उन्हें सब कुछ पता था।'

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने ऐसे समय में यह बयान दिया है जब कांग्रेस के कई नेताओं ने 2-जी मुद्दे पर मनमोहन सिंह का बचाव किया है। पार्टी ने भी कमलनाथ के बयान को ज्यादा तवज्जो नहीं दी और इस कथन को खारिज कर दिया कि कांग्रेस नेता के बयान ने विनोद राय की इस दलील को सही ठहराया है कि 2-जी स्पेक्ट्रम और कोयला ब्लॉकों के आवंटन के फैसलों के लिए मनमोहन सिंह अपनी जिम्मेदारी से नहीं भाग सकते।

यह पूछे जाने पर कि यदि मनमोहन सिंह ने अलग तरह से कार्रवाई की होती तो चीजें अलग होतीं, इस पर कमलनाथ ने एक चैनल से बातचीत में कहा, 'जैसा कि मेरे पत्र में कहा गया था, यदि कोई समूह या कैबिनेट समिति बनाई गई होती तो निश्चित तौर पर प्रक्रिया में बदलाव आता। इस पर और भी ज्यादा ध्यान देने की जरूरत थी।'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com