अजित डोभाल ने US विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री से हाथ मिलाने के बजाए इस 'खास अंदाज' में किया स्वागत

अजित डोभाल और अमेरिकी विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री के बीच अभिवादन की तस्वीरें सामने आई हैं. तस्वीर में डोभाल अमेरिकी नेताओं के साथ कोहनी लड़ाते हुए नजर आ रहे हैं

अजित डोभाल ने US विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री से हाथ मिलाने के बजाए इस 'खास अंदाज' में किया स्वागत

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल की मुलाकात (फाइल फोटो).

नई दिल्ली :

कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के बीच भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल (Ajit Doval) ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (Mike Pompeo) और रक्षा मंत्री मार्क टी एस्पर (Mark T Esper) का खास अंदाज में अभिवादन किया. डोभाल ने हाथ मिलाने से परहेज करते हुए कोहनी लड़ाकर (Elbow Bump) दोनों अमेरिकी नेताओं का अभिवादन किया. इस मुलाकात के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी खास ध्यान रखा गया.

टू प्लस टू वार्ता के तीसरे संस्करण से पहले साउथ ब्लॉक में 40 मिनट तक बैठक चली. भारत और अमेरिका के बीच रक्षा एवं सुरक्षा संबंधों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एस्पर और पोम्पिओ बातचीत के लिए भारत आए हैं. 

अजित डोभाल और अमेरिकी विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री के बीच अभिवादन की तस्वीरें सामने आई हैं. तस्वीर में डोभाल अमेरिकी नेताओं के साथ कोहनी लड़ाते हुए नजर आ रहे हैं. यहां मौजूद सभी लोगों ने मुंह और नाक को फेस मास्क से कवर किया हुआ है. पोम्पिओ के मास्क पर अमेरिका का ध्वज प्रिंट है. 

03jiip3g

एक वरिष्ठ अधिकारी ने एनडीटीवी को बताया, "बैठक में उन्होंने सामरिक महत्व के कई मुद्दों और चुनौतियों पर बातचीत की. दोनों पक्षों ने साझा उद्देश्यों को आगे बढ़ाने और सभी क्षेत्र में क्षमताओं का निर्माण करने की आवश्यकता पर जोर दिया ताकि एक सुरक्षित, स्थिर और नियम आधारित क्षेत्रीय एवं वैश्विक सुरक्षा माहौल सुनिश्चित किया जा सके." 

mr3hmlco
Newsbeep

भारतीय अधिकारियों ने कहा कि दोनों पक्षों ने भारतीय सेना के साथ चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के गतिरोध पर भी बातचीत की, दोनों सेनाएं 175 दिनों से आमने-सामने हैं. दोनों देशों के बीच तनाव उस समय चरम पर पहुंच गया था, जब गलवान घाटी में सैन्य झड़प हुई. इस सैन्य झड़प में 20 भारतीय जवानों की जान कुर्बान हुई थी. अच्छी खासी संख्या में चीनी सैनिक भी हताहत हुए थे. हालांकि, चीन ने इस संबंध में कोई आंकड़ा नहीं दिया है. 

वीडियो: भारत में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com