NDTV Khabar

आतंकवाद से मुकाबले के लिए NSA अजीत डोभाल ने सुरक्षा एजेंसियों से कहा, मीडिया पॉलिसी बनाएं

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने सोमवार को कहा कि आतंकवाद के खिलाफ जंग में धारणा प्रबंधन (Perception management) एक अहम हिस्सा है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आतंकवाद से मुकाबले के लिए NSA अजीत डोभाल ने सुरक्षा एजेंसियों से कहा, मीडिया पॉलिसी बनाएं

अजीत डोभाल ने सुरक्षा एजेंसियों द्वारा ट्रांस्पेरेंट मीडिया पॉलिसी अपनाए जाने की वकालत की

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने सोमवार को कहा कि आतंकवाद के खिलाफ जंग में धारणा प्रबंधन (Perception management) एक अहम हिस्सा है और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा ट्रांस्पेरेंट मीडिया पॉलिसी अपनाए जाने की वकालत की. आतंकवाद विरोधी दस्ते (एटीएस) के प्रमुखों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए डोभाल ने कहा कि बिना प्रचार के आतंकवाद लंबे समय तक टिक नहीं पाएगा और उसका खात्मा हो जाएगा. उन्होंने कहा, 'आतंकवाद के खिलाफ जंग में मीडिया बेहद महत्वपूर्ण हिस्सा है. जैसा मार्गरेट थेचर (पूर्व ब्रिटिश प्रधानमंत्री) ने कहा, अगर आतंकवादी कार्रवाई करते हैं और मीडिया चुप रहता है तो आतंकवाद खत्म हो जाएगा. आतंकवादी लोगों को डराते हैं. अगर मीडिया नहीं लिखेगा तो किसी को पता नहीं चलेगा. अगर स्कूल जाते वक्त किसी के बेटे का अपहरण और हत्या हो जाती है तथा मीडिया इसे नहीं छापता तो लोगों को पता नहीं चलेगा.' 

FATF की बैठक से पहले पाकिस्तान से बोला अमेरिका- हाफिज सईद समेत लश्कर के आतंकियों पर चलाएं केस


डोभाल ने कहा, इसलिये एक पारदर्शी मीडिया नीति होनी चाहिए और मीडिया को भरोसे में लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, 'यह आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बेहद महत्वपूर्ण अंग है. मीडिया को भरोसे में लीजिए. हम क्योंकि उन्हें कई चीजें नहीं बताते हैं, इसलिये वे कयास लगाते हैं और लिखते हैं. इसलिये उन्हें जानकारी दीजिए जिससे लोग खुद को आतंकवाद के खिलाफ तैयार कर सकें.' 

राजनाथ सिंह ने कहा- अगर पाकिस्तान वाकई आतंकवाद से लड़ने के लिए तैयार है तो भारत मदद के लिए तैयार, लेकिन...

टिप्पणियां

एनएसए ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ जंग में अवधारणा प्रबंधन एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और 'किसी को मीडिया को संभालने और उन्हें जानकारी देने के लिए प्रशिक्षित किया जाना चाहिए.' उन्होंने कहा, 'यह (आतंक) क्यों हुआ, कैसे हुआ और क्या किया जा सकता है और सरकार क्या कर रही है, संभवत: वे (मीडिया) बेहद सहयोगी होंगे. जब भी आप उन्हें विश्वास में लेते हैं वे बेहद सहयोगी होते हैं. एक मीडिया नीति बनाइये.”  

Video: अजीत डोभाल: FATF की कार्यवाही की वजह से अब तक का सबसे बड़ा दबाव झेल रहा है पाकिस्तान



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement