NTCA ने राज्यों को दिए निर्देश: बाघों पर नजर रखें और Covid-19 के लक्षण दिखते ही सूचित करें

राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकार (NTCA) ने केन्द्रीय पर्यावण मंत्रालय के राज्यों को परामर्श जारी करने के बाद ऐसे सभी राज्यों के मुख्य वन्यजीव वॉर्डन को सतर्क किया है जहां बाघ पाए जाते हैं.

NTCA ने राज्यों को दिए निर्देश: बाघों पर नजर रखें और Covid-19 के लक्षण दिखते ही सूचित करें

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • बाघ संरक्षण की सर्वोच्च संस्था ने राज्यों को निर्देश दिए हैं
  • कोविड-19 संक्रमण के यदि कोई लक्षण दिखाई देते है तो तत्काल इसकी सूचना दें
  • जानवरों से इंसानों में यह संक्रमण फैलने की गुंजाइश बहुत कम है
नई दिल्ली:

अमेरिका के एक चिड़ियाघर में एक बाघिन के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद भारत में बाघ संरक्षण की सर्वोच्च संस्था ने राज्यों को निर्देश दिए हैं कि वे बाघों पर नजर रखें और उनमें कोविड-19 संक्रमण के यदि कोई लक्षण दिखाई देते है तो तत्काल इसकी सूचना दें. राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकार (NTCA) ने केन्द्रीय पर्यावण मंत्रालय के राज्यों को परामर्श जारी करने के बाद ऐसे सभी राज्यों के मुख्य वन्यजीव वॉर्डन को सतर्क किया है जहां बाघ पाए जाते हैं. NTCA ने बाघों में संक्रमण फैलने से रोकने के लिए राज्यों को अग्रिम मोर्चे के कर्मचारियों तथा पशु अधिकारियों को चाकचौबंद रखने के लिए कहा है.

इस बारे में पूछे जाने पर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जानवरों से इंसानों में यह संक्रमण फैलने की गुंजाइश बहुत कम है. NTCA के सहायक वन महानिरीक्षक वैभव सी माथुर ने कहा, ‘मुझे यह सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं कि इस बीमारी के संचारी और जूनॉटिक (पशुओं से मानव में फैलने वाले रोग की) प्रकृति को देखते हुए भारत में बाघों में इस बीमारी को फैलने से राकने ने लिए उचित कदम उठाए जाएं.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com