शोभा डे इफेक्‍ट : मुफ्त इलाज की पेशकश मिलने के बाद इंस्पेक्टर जोगावत मुंबई रवाना

शोभा डे इफेक्‍ट : मुफ्त इलाज की पेशकश मिलने के बाद इंस्पेक्टर जोगावत मुंबई रवाना

शोभा डे के ट्वीट के बाद इंस्‍पेक्‍टर जोगावत चर्चा में आए

नीमच:

मशहूर लेखिका शोभा डे द्वारा पिछले सप्ताह सोशल मीडिया पर की गई टिप्पणी से सुखिर्यों में आये मध्यप्रदेश पुलिस के इंस्पेक्टर दौलतराम जोगावत एक डॉक्टर द्वारा मुफ्त इलाज की पेशकश मिलने के बाद अपने इलाज के लिए मुम्बई रवाना हो गये. शनिवार रात मुंबई के लिए रवाना होने से पहले 180 किलोग्राम वजन के जोगावत (58) ने बताया, ‘शोभा डे द्वारा किये गये एक गलत ट्वीट ने मेरी जिंदगी बदल दी है.’ उन्होंने कहा, ‘शोभा डे के ट्वीट के बाद मीडिया ने जिस तरह से इस मुद्दे को उठाया, इसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं. उम्मीद है कि इलाज के बाद मुझे अब और अच्छी जिंदगी मिलेगी.’ शोभा डे के ट्वीट से सुखिर्यों में आये जोगावत के मोटापे का मुफ्त इलाज करने के लिए देश के जाने माने डॉक्टर मुफज्जल लकड़ावाला का मुंबई स्थित संस्थान ‘सेंटर फॉर ओबेसिटी एण्ड डाइजेस्टिव सर्जरी’ (सीओडीएस) आगे आया है और इसके प्रबंधक फ्लॉयड डिसूजा यहां आये.

गौरतलब है कि गत 21 फरवरी को शोभा ने महाराष्ट्र पुलिस पर तंज कसने के लिए एक भारी भरकम डीलडौल वाले पुलिस जवान का फोटो सोशल मीडिया पर ट्वीट किया था और साथ में लिखा था ‘मुंबई में आज भारी बंदोबस्त है’. जिस भारी भरकम डीलडौल वाले पुलिस जवान की फोटो ट्वीट में था, वह महाराष्ट्र पुलिस का ना होकर मध्यप्रदेश पुलिस के इंस्पेक्टर दौलत सिंह जोगावत का निकला, जो नीमच में पदस्थ है. उसके मोटापे का कारण खानपान ना होकर बीमारी निकली, जिस पर पूरे देश के मीडिया एवं सोशल मीडिया में जमकर हल्ला मचा और जोगावत के पक्ष में मीडिया ने खूब खबरें दीं.

जोगावत को अपने साथ मुंबई ले जाने से पहले सीओडीएस के प्रबंधक डिसूजा ने बताया, ‘सबसे पहले मुंबई स्थित उनके सेंटर में जोगावत की पूरी जांच होगी और उसके बाद मेडिकल परीक्षण होंगे. इसके बाद डॉक्टर फैसला करेंगे कि इनके मोटापे का इलाज दवाओं से किया जाये या ऑपरेशन से.’ डॉक्टर मुफज्जल लकड़ावाला के अलावा भी कई अस्पतालों ने जोगावत के मोटापे का इलाज मुफ्त में करने की पेशकश की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

नीमच पुलिस लाइन में तैनात जोगावत ने शोभा डे के ट्वीट के बाद बताया था, ‘मैं शोभा डे के ट्वीट से बेहद आहत हुआ हूं. इसमें मेरा मजाक बनाया गया है.’ उन्होंने कहा था, ‘कोई अपनी खुशी से मोटा नहीं होता. मैं वर्ष 1993 तक सामान्य था. लेकिन वर्ष 1993 में जब मेरा पित्ताशय (गालब्लैडर) का ऑपरेशन हुआ तो शरीर में इन्सुलिन का संतुलन बिगड़ गया और मैं भारी भरकम (ओवरवेट) हो गया.’ मुम्बई पुलिस ने तुरंत ट्वीट करके कहा था, ‘यह पुलिस वाला महाराष्ट्र पुलिस का नहीं है. हम आप जैसे लोगों से और बेहतर नागरिक होने की उम्मीद करते हैं.’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)