NDTV Khabar

जम्मू में वैष्णो देवी दर्शन के प्राचीन गुफा के रास्ते खोले जाएंगे, लोग बर्फबारी का आनंद भी ले सकेंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू में वैष्णो देवी दर्शन के प्राचीन गुफा के रास्ते खोले जाएंगे, लोग बर्फबारी का आनंद भी ले सकेंगे

वैष्णो माता मंदिर के पास बर्फबारी हो रही है...

नई दिल्ली:

अगर आप जम्मू में वैष्णो देवी दर्शन करने की इच्छा रखते हो तो आप माता वैष्णो देवी के मंदिर तो जा ही सकते हैं साथ ही त्रिकुटा पर्वत की बर्फीली चोटियों में घिरे माता का ऐसा दर्शन कर सकते हैं जैसा शायद ही आपने कभी किया होगा.

रास्ते में दो तीन फुट बर्फ जमी हुई है. ऐसा लगता है पूरे रास्ते मानों बर्फ की सफेद की चादर किसी ने बिछा दी है. हालांकि बर्फबारी की वजह से श्राइन बोर्ड प्रशासन ने भैरों बाबा की यात्रा पर फिलहाल रोक लगा दी है क्योंकि ऐसे मौसम में इस रास्ते पर भूस्खलन और चट्टान गिरने का खतरा बना रहता है.  
 

vaishno mata
वैष्णो माता मंदिर के पास बर्फबारी

बेशक बर्फबारी की वजह से कुछ यात्रियों को दिक्कत आ रही है, लेकिन ऐसे मौसम आनंद उठाते हुए माता के दर्शन करने कुछ लोग शौक रखते हैं. लोगों का मानना है कि ऐसे में एक पंथ दो काज हो जाते हैं. माता के दर्शन और बर्फबारी का आनंद भी.

यही वजह है कि इतनी बर्फबारी होने के बावजूद श्राइन बोर्ड ने यात्रा को रोका नहीं है. यात्रियों की सुविधा के लिए श्राइन बोर्ड तो अब माता की पुरानी गुफा को सारा दिन खुला रखने को सोच रहा है.
 

vaishno mata
वैष्णो माता मंदिर के पास बर्फबारी

प्रशासन ने भीड़ कम होने पर वैष्णो देवी के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को आकर्षित करने के लिए प्राचीन गुफा के रास्ते फिर खोल दिए हैं. प्रशासन ऐसा पहले भी करता रहा है. पिछले साल भी जब यात्रियों की तादाद में कमी आई थी तो श्राइन बोर्ड प्रशासन ने पुराने रास्ते खोल दिए थे.

टिप्पणियां

अभी खबर है कि रोजाना इन दिनों सिर्फ 12-14 हजार श्रद्धालु ही माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए आ रहे हैं. इसी वजह से प्राचीन गुफा के द्वार खोलने पर फिर विचार हो रहा है. बता दें कि श्रद्धालु प्राचीन गुफा के जरिए दर्शन पाने के इच्छुक रहते हैं.

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement