लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला बोले, 'पर्यावरण संरक्षण हेतु जनभागीदारी और सामूहिक प्रयास जरूरी'

ओम बिरला ने महात्मा गांधी को याद करते हुए कहा कि बापू ने जनभागीदारी और जनांदोलन से समाज को जोड़ने का कार्य किया और देश को एकजुट कर आज़ादी का मार्ग प्रशस्त किया.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला बोले, 'पर्यावरण संरक्षण हेतु जनभागीदारी और सामूहिक प्रयास जरूरी'

रोटरी क्लब ऑफ़ दिल्ली हेरिटेज द्वारा आयोजित 'Save Earth' कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए ओम बिरला

खास बातें

  • दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में क्लब में हुआ कार्यक्रम
  • बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए लोकसभा अध्यक्ष
  • पर्यावरण संकट को लेकर रखे अपने विचार
नई दिल्ली:

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने शनिवार को नई दिल्ली स्थित कांस्टीट्यूशन क्लब में रोटरी क्लब ऑफ़ दिल्ली हेरिटेज द्वारा आयोजित 'Save Earth' कार्यक्रम में पर्यावरण संरक्षण को लेकर अपने विचार रखे.  मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में शामिल हुए ओम बिरला ने अपने अभिभाषण में कहा कि विश्व पर्यावरण संरक्षण हेतु भारत ने व्यापक प्रयास किए हैं. उन्होंने कहा, ''पर्यावरण शुद्धता हमारे देश की संस्कृति में है और पुरातन काल से ही हमारे संस्कारों में रही है. वर्तमान परिदृश्य में ग्लोबल वार्मिंग को देखते हुए भारत वैश्विक स्तर पर व्यापक और सराहनीय प्रयास कर रहा है.''

ओम बिरला जिस ट्रेन के कोच में कर रहे थे सफर, शराब पीकर हंगामा कर रहे थे लोग, फिर यूं सिखाया सबक

बिरला ने महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को याद करते हुए कहा कि बापू ने जनभागीदारी और जनांदोलन से समाज को जोड़ने का कार्य किया और देश को एकजुट कर आज़ादी का मार्ग प्रशस्त किया. उन्होंने कहा कि आज स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण और परिवर्तन हेतु जनभागीदारी, जनांदोलन और सामूहिक प्रयास ज़रूरी है और नए भारत के निर्माण हेतु समाज में जागरूकता लाने का हमें प्रयास करना चाहिए, जिससे जनभागीदारी द्वारा जब 2022 में आज़ादी के 75 वर्ष मनाएं तो उस लक्ष्य तक पहुंच सकें. 

लोकसभा अध्यक्ष ने लाभ के पद से संबंधित संयुक्त समिति का गठन किया

अंत में बिरला ने कहा कि देश के विकास के लिए हमें औद्योगिक, आर्थिक गति को सुधारते हुए साथ-साथ पर्यावरण सुधार के लिए अपने प्रयास जारी रखने चाहिए. उन्होंने रोटरी क्लब ऑफ़ दिल्ली हेरिटेज द्वारा भी स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण को ध्यान रखते हुए सिंगल यूज प्लास्टिक को प्रतिबंधित करने और “जूट के थैलों” के उपयोग करने की पहल की सराहना की. 

VIDEO: 2022 में नए संसद भवन के आसार- ओम बिरला
  

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com