NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर में RSS नेता की हत्या पर महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने दिया बयान, कही यह बात

उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मैं आरएसएस नेता चंद्रकांत और उनके पीएसओ की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर में RSS नेता की हत्या पर महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने दिया बयान, कही यह बात

आरएसएस नेता की हत्या पर उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने दिया बयान

खास बातें

  1. आरएसएस नेता की हत्या पर उमर-महबूबा ने की निंदा
  2. आरएसएस नेता के पीएसओ की भी हुई हत्या
  3. महबूबा ने राज्यपाल से की जांच कराने की मांग
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता चंद्रकांत (RSS Leader Murder) और उनके सुरक्षाकर्मी की हत्या को लेकर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah)  और महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने ट्वीट किया है. उन्होंने इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है. उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मैं आरएसएस नेता चंद्रकांत और उनके पीएसओ की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं. राजनेताओं पर इस तरह के हमले नामंजूर हैं. मैं स्थानीय लोगों से अपील करता हूं कि वह प्रशासन की मदद करें और शांति बनाए रखें.


वहीं, पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा कि इस तरह की आंतकी घटनाएं निदंनीय है. ऐसा लगता है कि यह घटना किसी सांप्रदायिक तनाव को उकसाने के लिए एक बड़ी योजना का हिस्सा लगता है. गवर्नर साहेब से मैं इस मामले की जांच कराने की अपील करती हूं साथ ही किश्तवाड़ के लोंगों से शांति बनाए रखने की अपील करती हूं.

टिप्पणियां

वहीं, भाजपा नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने कहा कि क्षेत्र में चुनिंदा तरीके से हिंदू नेताओं की हत्या से विस्थापन शुरू हो सकता है. उन्होंने सुरक्षा हालात की समीक्षा की मांग की. संघ पदाधिकारी चंद्रकांत शर्मा और उनके निजी सुरक्षाकर्मी राजेंद्र की एक स्वास्थ्य केंद्र में एक आतंकवादी ने गोली मार दी. दोनों सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील इस क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्र गये थे. गुप्ता ने पास में गांग्याल में एक रैली में कहा कि इस घटना से सुरक्षा बलों और राज्यपाल प्रशासन को सतर्क हो जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान समर्थक हुर्रियत और उसके सहयोगियों की इलाके में आतंकी गतिविधियां फिर से शुरू करने की सुनियोजित साजिश है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement