Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

मसूद अज़हर पर पाबंदी को लेकर चीन के नए रुख से भारत को फिर लगा झटका

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मसूद अज़हर पर पाबंदी को लेकर चीन के नए रुख से भारत को फिर लगा झटका

आतंकी सरगना मसूद अज़हर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

आतंकवादी सरगना मसूद अज़हर पर अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगवाने की भारत की कोशिशों को चीन के नए रुख से एक बार फिर झटका लगा है.

समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया के मुताबिक, चीन अपनाया गया नया रुख है, किसी को भी 'आतंकवाद का मुकाबला करने के नाम पर राजनीतिक फायदा' नहीं उठाना चाहिए. यह बात चीन विदेश उपमंत्री ली बाओडॉन्ग ने कही.

इसी सप्ताह गोवा में होने जा रहे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात करने वाले हैं.

भारत का आरोप है कि इसी साल जनवरी में पठानकोट में स्थित एयरफोर्स बेस पर हुए हमले तथा पिछले महीने उरी में सेना के कैम्प पर हुए आतंकवादी हमलों के पीछे जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है, जिसका प्रमुख मसूद अज़हर है.

इससे पहले भी चीन दो बार भारत की उन कोशिशों को नाकाम कर चुका है, जिनके तहत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा अल कायदा या आईएसआईएस से जुड़े आतंकवादी समूहों में मसूद अज़हर का नाम शामिल करवाया जाना था.


टिप्पणियां

अप्रैल में सुरक्षा परिषद के 15 सदस्य देशों में से चीन एकमात्र था, जिसने मसूद अज़हर पर प्रतिबंध के खिलाफ वीटो कर दिया था, और पिछले माह के अंत में वीटो (तकनीकी रोक) के खत्म हो जाने पर उसे नए सिरे से जारी किया. प्रतिबंध लग जाने की सूरत में मसूद अज़हर की सारी संपत्तियां जब्त कर ली जाएंगी, तथा उसके अंतरराष्ट्रीय आवागमन पर पाबंदी लागू हो जाएगी.

आमतौर पर तकनीकी रोक हटाई जा सकती हैं, और ये उस समय सामने आती हैं, जब सुरक्षा परिषद का कोई सदस्य ज़्यादा जानकारी पाना चाहता है, लेकिन कभी-कभी यह प्रस्तावित ब्लैकलिस्टिंग पर स्थायी रोक बनकर रह जाती हैं. पिछले सप्ताह भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा था कि भारत इस मुद्दे पर चीन से अपने रुख पर पुनर्विचार करने का आग्रह करेगा.



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... शादी के लिए नहीं मिल पा रही थी फुर्सत, IAS ऑफिसर ने दफ्तर में ही रचाया IPS दुल्‍हन संग ब्‍याह

Advertisement