पीएम मोदी की दिए जलाने की अपील पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा, "मैं क्यों प्रधानमंत्री मोदी के मामलों में नाक घुसाऊं"

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री मोदी द्वारा रविवार को लाइट बुझाकर दिए जलाने की अपील पर कुछ कहने से बचती नजर आईं.

पीएम मोदी की दिए जलाने की अपील पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा,

ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम मोदी की अपील मानना यह हर व्यक्ति का निजी मामला है.

कोलकाता :

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कुछ नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुक्रवार को 5 अप्रैल को लाइट बुझाकर दिए जलाने की अपील की जमकर आलोचना की. हालांकि प्रधानमंत्री मोदी पर ज्यादातर हमलावर रहने वाली ममता बनर्जी ने इस मुद्दे पर संयम बनाए रखा. ममता बनर्जी ने कहा, "मैं क्यों प्रधानमंत्री मोदी के मामलों में नाक घुसाऊं." 

ममता बनर्जी ने कहा, 'अभी मैं राजनीति करूं या फिर कोरोनावायरस के मद्देनजर चीजों का प्रबंधन करूं'. ममता बनर्जी ने कहा कि आप क्यों एक राजनीतिक जंग की शुरुआत करवाना चाहते हैं?  ममता बनर्जी ने कहा कि जिनको प्रधानमंत्री मोदी की बात सही लगी वे उनकी बात मानें. अगर मुझे सोना होगा तो मैं सोउंगी. यह पूरी तरह से एक निजी मामला है.

बता दें कि पीएम मोदी ने लोगों से अपील की,' इस रविवार 5 अप्रैल को सबको मिलकर, कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसे प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है. इस 5 अप्रैल को हमें, 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है. घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं. और उस समय यदि घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का ऐहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं, ये उजागर होगा.''

PM मोदी की देश से अपील, '5 अप्रैल रात 9 बजे आपसे 9 मिनट चाहता हूं'

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com