NDTV Khabar

18 साल में एक बार नवीनतम कानूनों की जानकारी ले पाता है पुलिस कर्मी

84 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
18 साल में एक बार नवीनतम कानूनों की जानकारी ले पाता है पुलिस कर्मी

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली: पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपीआरडी) की प्रमुख ने गुरुवार को कहा कि प्रशिक्षण सत्रों में बड़ा फासला होने के चलते कोई भी पुलिसकर्मी सामान्य तौर पर 18 सालों में एक ही बार नवीनतम कानूनों एवं नियमों के बारे में जानकारी ले पाता है. गृह मंत्रालय के अंतर्गत आने वाला बीपीआरडी पुलिस प्रणाली से जुड़े मुद्दों पर काम करने वाला राष्ट्रीय नोडल विभाग है.

बीपीआरडी की महानिदेशक मीरान सी बोरवणकर ने यहां पुलिस प्रशिक्षण पर एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘हाल ही में हमने महसूस किया कि प्रशिक्षण में बड़ा फासला है. ’’ ब्यूरो द्वारा पुलिस संगठनों पर प्रकाशित आंकड़ा दर्शाता है कि वर्ष 2015 में देशभर में 73,000 पुलिस अधिकारियों की भर्तियां हुईं लेकिन केवल 57,000 को ही प्रशिक्षण दिया जा सका.

बोरवणकर ने कहा, ‘‘अतएव 16,000 पुलिसकर्मियों, जिनकी हमने भर्ती की, को मूलभूत प्रशिक्षण नहीं देने में एक फासला है. आंकड़ा यह भी दर्शाता है कि 22 लाख कर्मियों वाले पुलिस बल में हम केवल 1.4 लाख पुलिसकर्मियों को ही सेवा के दौरान प्रशिक्षण दे पाए जिसका मतलब है कि मुझे 18 साल में एक बार नवीनतम कानूनों, नियमों एवं विनिमयों के बारे में प्रशिक्षण दिया जाएगा. ’’

उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशिक्षकों का जज्बा उंचा बनाए रखना एक बड़ी चुनौती है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement