NDTV Khabar

कभी बेचा करते थे चाय, फिर जीता पार्षद का चुनाव, अब बने NDMC के महापौर

उन्हें दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी ने नामांकित किया था और उत्तर दिल्ली नगर निगम की आम सभा में हुए चुनाव में उन्हें निर्विरोध चुन लिया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कभी बेचा करते थे चाय, फिर जीता पार्षद का चुनाव, अब बने NDMC के महापौर

सिंह इस पद पर पहुंचने वाले पहले दलित सिख भी हैं.

नई दिल्ली:

आजीविका के लिए कभी चाय बेचने वाले भाजपा पार्षद अवतार सिंह को सोमवार को उत्तरी दिल्ली का नया महापौर निर्विरोध चुन लिया गया. सिंह इस पद पर पहुंचने वाले पहले दलित सिख भी हैं. नगर निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्हें दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी ने नामांकित किया था और उत्तर दिल्ली नगर निगम की आम सभा में हुए चुनाव में उन्हें निर्विरोध चुन लिया गया. दिल्ली भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘सिंह भाजपा के बहुत मेहनती कैडर हैं. अपनी कड़ी मेहनत की बदौलत वह चाय बेचने से शुरुआत कर महापौर के पद तक पहुंचे.' सिंह रामलीला में कई किरदार निभाते थे. बताया जाता है कि वह एक फाइव स्टार होटल में कुली का भी काम कर चुके हैं.

इससे पहले भाजपा पार्षद सुनीता कांगड़ा को सर्वसम्मति से एक बैठक में दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) का महापौर चुना गया था. शुक्रवार को निकाय की आम बैठक में यह निर्णय लिया गया था. भाजपा के शासन वाली नगर निगम ने सर्वसम्मति से राज दत्त गहलोत को अपना नया उप महापौर चुन लिया. मादीपुर वॉर्ड से पार्षद कांगड़ा ने कहा कि दक्षिणी दिल्ली के नागरिकों के लिए स्वच्छता, शिक्षा और पार्किंग की सुविधा मुहैया कराना उनकी प्राथमिकता है.


आज भी मां देती हैं पैसे, चाय की है आदत, गुस्सा नहीं करता: जानें पीएम मोदी की जिंदगी के 10 अनसुने पहलू

वहीं अंजू कमलकांत को पूर्वी दिल्ली नगर निगम का महापौर निर्वाचित किया गया. इसके साथ ही संजय गोयल नए उप महापौर बनाया गया है.

(इनपुट- भाषा)

टिप्पणियां

असम में बोले पीएम मोदी: चाय वालों का दर्द सिर्फ एक चायवाला ही समझ सकता है

Video: 'मैं भी चौकीदार' वाले कप का विवाद, सोशल मीडिया पर खबर वायरल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement