NDTV Khabar

Lok Sabha Polls 2019: ओडिशा में चुनाव से पहले हिंसा मामले में एक आरोपी गिरफ्तार, मजिस्ट्रेट समेत पार्टी के उम्मीदवार भी हुए थे घायल 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना के दौरान भाजपा के विधानसभा के एक उम्मीदवार की कार पर भी बम फेंका गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Lok Sabha Polls 2019: ओडिशा में चुनाव से पहले हिंसा मामले में एक आरोपी गिरफ्तार, मजिस्ट्रेट समेत पार्टी के उम्मीदवार भी हुए थे घायल 

Lok Sabha Polls 2019: हिंसा में निर्वाचन आयोग के एक मजिस्ट्रेट भी घायल हुए हैं

नई दिल्ली:

ओडिशा में रविवार को हुई हिंसा की घटनाओं में निर्वाचन आयोग के एक मजिस्ट्रेट समेत कांग्रेस और बीजेपी के उम्मीदवार भी घायल हुए हैं. इस मामले में पुलिस ने अभी तक एक आरोपी कि गिरफ्तारी की है. हिंसा के दौरान एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना के दौरान भाजपा के विधानसभा के एक उम्मीदवार की कार पर भी बम फेंका गया. हालांकि इस घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है. बता दें कि हिंसा रविवार को तीसरे चरण के लिए प्रचार अभियान की समाप्ति से कुछ घंटे पहले शुरू हुई थी. पुरी के जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन अधिकारी जे पी दास ने आरोप लगाया था कि मौजूदा विधायक और बीजद के विधानसभा उम्मीदवार प्रदीप महारथी ने पिपली में चुनावी उड़न दस्ते के मजिस्ट्रेट पर हमला किया.

सपा बोली, योगी आदित्यनाथ सबसे अयोग्य मुख्यमंत्री, लोकसभा चुनाव से पहले ध्रुवीकरण में लगे


आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रुपये और शराब का वितरण किए जाने की शिकायत पर निर्वाचन आयोग का दल रात करीब साढ़े ग्यारह बजे महारथी के फार्महाउस पर पहुंचा था. यहां कैपिटल अस्पताल में भर्ती घायल मजिस्ट्रेट रविनारायण पात्रा ने दावा किया कि जैसे ही हम वहां पहुंचे प्रदीप महारथी ने गालियां देनी शुरू कर दीं और बाद में मुझपर और मेरे दल पर हमला किया. इस हमले में पुलिस के सहायक उप निरीक्षक बिनय कुमार दास और उनकी कार का चालक दीपक भी घायल हो गया था. पात्रा ने कहा कि अपनी जान पर खतरा देखते हुए, वहां जांच के लिये पहुंचे हमारे 15 लोगों के दल को एक गाड़ी में वहां से भागना पड़ा. दूसरी कार अब भी फॉर्महाउस में ही है.
 

मंदसौर गोलीकांड की बरसी: राहुल की रैली का डर? 1200 लोगों को दिया गया नोटिस

उन्होंने कहा कि मुझे कमर पर चोट आई है और मैं चल-फिर नहीं सकता. पुरी के पुलिस अधीक्षक उमाशंकर दास ने कहा कि इस संबंध में एफआईआर दर्ज की गई है महारथी से पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में महारथी ने स्वीकार किया कि निर्वाचन आयोग के दल के साथ बहस हुई थी लेकिन उन्होंने हमले में खुद के शामिल होने से इनकार किया. बीजद नेता ने आरोप लगाया कि निर्वाचन आयोग के दल के सदस्य आधी रात को फॉर्महाउस का ताला तोड़कर उसमें घुसे थे. महारथी को पिपली सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में आरोपियों को बचाने के आरोप के बाद 2012 में मंत्रालय से इस्तीफा देना पड़ा था. उन्हें 2014 में दोबारा मंत्री पद मिला था लेकिन इस साल जनवरी में उन्होंने इस्तीफा दे दिया था.

टिप्पणियां

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव : हिंसा में आठ लोगों की मौत, 73 फीसदी मतदान

एक अन्य घटना में भुवनेश्वर (सेंट्रल) से बीजद उम्मीदवार अनंत नारायण जेना उस वक्त घायल हो गए जब शहर के झारपाड़ा इलाके में रविवार देर रात उनकी कार पर कुछ लोगों ने बम फेंके. भुवनेश्वर के सिर और हाथ में चोट आई है. उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया है. जेना पर यह हमला ऐसे वक्त हुआ जब इसके कुछ घंटों पहले ही भुवनेश्वर (सेंट्रल) से भाजपा उम्मीदवार जगन्नाथ प्रधान की कार पर यहां डेल्टा स्क्वायर के पास देसी बम फेंके गए. पुलिस ने कहा कि इस घटना में हालांकि उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा. वहीं क्योंझर जिले से आई खबर के मुताबिक हमलावरों ने ओडिशा प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख निरंजन पटनाइक पर रविवार दोपहर घासीपुरा में हमला किया. इस हमले में कुछ और लोग भी घायल हुए हैं. पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को हिरासत में लिया है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement