NDTV Khabar

पश्चिम बंगाल के कांकीनारा में देसी बम के हमले में एक शख्स की मौत, लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां हुई थी हिंसा

मिली जानकारी के मुताबिक नॉर्थ 24 परगना जिले के काकीनारा इलाके से सटे बरुईपारा में मृतक मोहम्मद मुख्तार उसके परिवार के लोग और पड़ोसी घर के बाहर बैठे हुए थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिम बंगाल के कांकीनारा में देसी बम के हमले में एक शख्स की मौत, लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां हुई थी हिंसा

कांकीनारा में लोकसभा चुनाव के दौरान भी हिंसा हुई थी

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल के कांकीनारा इलाके में देसी बम से किए गए हमले में एक शख्स की मौत हो गई है. मृतक का नाम मोहम्मद मुख्तार (68) था. इसके अलावा कई गंभीर रूप से घायल हुए भी हैं. मिली जानकारी के मुताबिक नॉर्थ 24 परगना जिले के काकीनारा इलाके से सटे बरुईपारा में मृतक मोहम्मद मुख्तार उसके परिवार के लोग और पड़ोसी घर के बाहर बैठे हुए थे. तभी किसी ने बम फेंक दिया. घटना में मुख्तार की पत्नी और कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. आपको बता दें कि पिछले महीने लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां हिंसा भड़की थी.

टिप्पणियां

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल बीते कई महीनों ने राजनीतिक हिंसा का सामना कर रहा है. यहां पर बड़े पैमाने में बीजेपी और टीएमसी के कार्यकर्ता आपस में एक दूसरे से भिड़ रहे हैं और दोनों पक्षों की जानें जा रहे हैं. वहीं पार्टियों के नेता एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. सोमवार को इन हिंसा की घटना के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 12 घंटे के बंद का आह्वान किया था. बंद के चलते बशीरहाट उपमंडल में रेल सेवाएं बाधित हुईं और आम जनजीवन प्रभावित हुआ.


भगवा पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उत्तर 24 परगना में भ्याबला स्टेशन पर सुबह रेल ट्रैक पर धरना प्रदर्शन किया, जिससे सियालदाह-हसनाबाद मंडल में स्थानीय ट्रेन सेवाओं में व्यवधान पैदा हुआ. ज्यादातर दुकानें बंद रहीं. अधिकांश निजी वाहन सड़कों से नदारद रहे, जबकि सरकार के स्वामित्व वाले वाहन नजर आए. पुलिस ने कहा, "कानून और व्यवस्था नियंत्रण में है। हड़ताल से जीवन आंशिक रूप से प्रभावित हुआ है." इससे पहले भगवा पार्टी के झंडे को हटाने को लेकर संदेशखली के हतगाची इलाके में रविवार को तृणमूल और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई, इसने जल्द ही एक हिंसक रूप ले लिया और गोलियां चलाई जाने लगीं.पुलिस ने घटना में अब तक भाजपा के दो और तृणमूल के एक कार्यकर्ता की मौत होने की पुष्टि की है, हालांकि दोनों दलों ने कम से कम आठ मौतें होने का दावा किया है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement