निजामुद्दीन मरकज से निकाल कर अस्पताल में भर्ती करवाए गए लोगों में से एक ने किया आत्महत्या का प्रयास

दिल्ली के निज़ामुद्दीन मरकज से निकाल कर कुछ मरीजों को राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. भर्ती मरीजों में से एक ने आज  6 वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया.

निजामुद्दीन मरकज से निकाल कर अस्पताल में भर्ती करवाए गए लोगों में से एक ने किया आत्महत्या का प्रयास

मरकज से अस्पताल में भर्ती करवाए गए मरीज ने आत्महत्या का किया प्रयास

दिल्ली के निज़ामुद्दीन मरकज से निकाल कर कुछ मरीजों को राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. भर्ती मरीजों में से एक ने आज  6 वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया. अस्पताल प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया ताकि ऐसी घटनाए दोबारा न हो. बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा निजामुद्दीन मरकज को कोरोनावायरस हॉटस्पॉट (जहां संक्रमित लोगों की संख्या ज्यादा है) घोषित किया गया है. वहां पर 8 दिन तक एक धार्मिक आयोजन में कई देशों के हजारों लोगों ने हिस्सा लिया था, जिसमें से अबतक 90 से ज्यादा लोगों का टेस्ट पॉजिटिव आ चुका है, जबकि 7 लोगों की मौत हो चुकी है. 

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने मुख्य मौलवी मौलाना साद और छह अन्य को आरोपी बना कर केस फाइल किया है. बता दें कि मार्च में कई देशों के हजारों तबलीगी जमात के सदस्यों ने यहां आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया था, जिसमें कोरोनोवायरस से जुड़े चेतावनियों और सावधानियों की अवहेलना की गई थी. 

गौरतलब है कि देश में कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में अबतक कोरोनावायरस से 38 लोगों की मौत हो चुकी है और 1600 से ज्यादा लोग इसके संक्रमण के शिकार हुए हैं. इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने डिजिटल माध्यम से प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने बताया कि दिल्ली  में कोरोना अभी कम्यूनिटी ट्रांसमिशन के स्टेज में नहीं पहुंचा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में स्थिति नियंत्रण में है.  उन्होंने बताया कि दिल्ली में कोरोनावायरस के अब तक 120 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 112 अस्पताल में हैं, पांच को छुट्टी मिल चुकी है, एक की मौत हो गई है और एक सिंगापुर जा चके हैं. 

(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको सहारे की जरूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं जिसे मदद की दरकार है तो कृपया अपने नजदीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं.)

हेल्‍पलाइन नंबर:

AASRA: 91-22-27546669 (24 घंटे उपलब्ध)

स्‍नेहा फाउंडेशन: 91-44-24640050 (24 घंटे उपलब्ध)

वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ: 1860-2662-345 और 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)

iCall: 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध: सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)

एनजीओ: 18002094353 दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्‍ध)
 

VIDEO: CM केजरीवाल ने कहा, 'मरकज से निकाल कर 536 लोगों को अस्पताल में करवाया गया है भर्ती'

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com