NDTV Khabar

जिस एकमात्र वोटर के लिए चुनाव आयोग कराता था पोलिंग बूथ की व्यवस्था, 68 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

गिर जंगल में बाणेज के मंदिर के मंहत और अपने इलाके के मतदाता महंत भरतदास बापू का निधन शुक्रवार को हो गया. वह 68 वर्ष के थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जिस एकमात्र वोटर के लिए चुनाव आयोग कराता था पोलिंग बूथ की व्यवस्था, 68 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

राजकोट के प्राइवेट अस्पताल में महंत भारतदास बापू का निधन हुआ

नई दिल्ली:

गिर जंगल में बाणेज के मंदिर के मंहत और अपने इलाके के मतदाता महंत भरतदास बापू का निधन शुक्रवार को हो गया. वह 68 वर्ष के थे. भरतदास, राजस्थान के पाली जिले के मूल निवासी थे. बापू, गिर सोमनाथ जिले में सुदूर जंगल में बने बाणेज गांव के प्राचीन शिव मंदिर के एकमात्र पुजारी थे जिनके लिए चुनाव आयोग साल 2007 से एक अलग मतदान बूथ की व्यवस्था कराता था. महंत भारतदास बापू का निधन राजकोट के प्राइवेट अस्पताल में हुआ. 

झारखंड में 30 नवंबर से 5 चरणों में होंगे विधानसभा चुनाव, 23 दिसंबर को आएंगे नतीजे

महंत के शिष्य ने बताया पिछले कई सालों से डाइबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और हृदय संबंधी कई बीमारियों से ग्रस्त थे. हाल ही में उनकी दोनों किडनियां फेल हो गईं थी. उनका अंतिम संस्कार जामवाला में होगा. 


निर्वाचन आयोग ने वृद्ध मतदाताओं को डाक मतपत्र जारी करने के दिशा निर्देश पर काम शुरू किया

टिप्पणियां

बाणेज पोलिंग बूथ के एकमात्र वोटर भरतदास चुनाव आयोग के लिए आदर्श मतदाता बन गए थे. उन्होंने 2007, 2012, 2017 के विधानसभा चुनाव और 2009, 2014 और 2019 लोकसभा चुनावों में मतदान किया था. आखिरी बार उन्होंने लोकसभा चुनावों में अपने मत अधिकार का इस्तेमाल किया था.  

Video: Assembly Election 2019 में मतदान के दौरान खराबी की वजह से 0.61% EVM बदले गए



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement