प्रधानमंत्री मोदी का विरोध करते-करते देश का विरोध करने लग जाते हैं विपक्षी नेता : नड्डा

नड्डा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये दिल्ली से राजस्थान में विभिन्न भाजपा जिला कार्यालयों का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया.

प्रधानमंत्री मोदी का विरोध करते-करते देश का विरोध करने लग जाते हैं विपक्षी नेता : नड्डा

बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने कार्यकर्ताओं से राजस्थान में अगले चुनाव की तैयारी करने को कहा(फाइल फोटो)

जयपुर:

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर ‘दिशाहीन' होने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध करते-करते विपक्षी दल के नेता देश का विरोध करने और पाकिस्तान जैसे मुल्क की तारीफ करने लग जाते हैं.

यह भी पढ़ें- सीमावर्ती इलाकों में बड़े पैमाने पर सड़कों के निर्माण से भयभीत है चीन : नड्डा

नड्डा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये दिल्ली से राजस्थान में विभिन्न भाजपा जिला कार्यालयों का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया. नड्डा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर भी निशाना साधा और कहा कि वहां सरकार नाम की चीज ही नहीं है. भारत में जो विपक्ष है, वह दिशाहीन हो चुका है. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी का विरोध करते करते देश का विरोध करने लगा है. हम अनुच्छेद 370 हटाते हैं तो सारे देश में खुशी की लहर आ जाती है. कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक होता है, लेकिन राहुल गांधी दलील देते हैं कि श्रीनगर के लोगों से अन्याय हुआ.

यह भी पढ़ें- सीमावर्ती इलाकों में बड़े पैमाने पर सड़कों के निर्माण से भयभीत है चीन : नड्डा

Newsbeep

नड्डा ने कहा कि राहुल गांधी की दलीलों को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र में हथियार के रूप में इस्तेमाल करते हैं. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू बोलते थे कि अनुच्छेद 370 अस्थायी व्यवस्था है. फिर बाद में जब उनकी हिम्मत नहीं हुई इसे हटाने की तो कहने लगे कि ये घिस-घिस कर घिस जाएगी. वो तो घिसा नहीं, उसको तो हम लोगों ने हटाया लेकिन कांग्रेस पार्टी घिस गई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नड्डा ने कहा कि हमारे पीएम ने सीमा को सुरक्षित करने के लिए नभ में, जल में और थल में...भारत को सुरक्षित करने का काम किया है. उन्होंने पिछले छह साल में 4700 किलोमीटर की फोर लेन की सड़क अरुणाचल प्रदेश से लेकर गलवान घटी तक बनवाया ताकि हमारे लोग तुरंत वहां पहुंच सके.नड्डा ने कृषि सुधार कानूनों को क्रांतिकारी बताया और कहा कि ये कानून किसानों को आजादी देते हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)