NDTV Khabar

EVM मामला : लोगों ने बस शिकायतें कीं, सबूत नहीं दिए : NDTV से CEC नसीम जैदी

NDTV के श्रीनिवासन जैन के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी ने कहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ के सबूत नहीं हैं. लोगों ने सिर्फ़ शिकायतें की, सबूत नहीं दिए.

2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
EVM मामला : लोगों ने बस शिकायतें कीं, सबूत नहीं दिए : NDTV से CEC नसीम जैदी

सीईसी नसीम जैदी ने कहा कि मैं भरोसे से कह सकता हूं कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं.

खास बातें

  1. मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी ने कहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ के सबूत नहीं हैं
  2. बोले - मैं भरोसे से कह सकता हूं कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं
  3. आयोग को अभी तक ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिला
नई दिल्ली: NDTV के श्रीनिवासन जैन के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी ने कहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ के सबूत नहीं हैं. लोगों ने सिर्फ़ शिकायतें की, सबूत नहीं दिए. सीईसी नसीम जैदी ने कहा कि मैं भरोसे से कह सकता हूं कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं. चुनाव आयोग को अभी तक ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिला है. पिछले सप्ताह सर्वदलीय बैठक में हैकाथॉन चैलेंज का निर्णय लिया गया था जो कि 3 जून से शुरू होगा.

जैदी ने दावा किया कि अभी तक हैकाथॉन के लिए किसी भी पार्टी की ओर से कोई नाम सबमिट नहीं किया गया. यहां तक कि हमने उनसे प्रतिनिधियों का नाम मांगा है. नाम सबमिट कराने की डेडलाइन 26 मई है. 

टिप्पणियां
आम आदमी पार्टी नेता के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने कहा हैकाथॉन के लिए चुनाव आयोग की शर्तों पर आपत्ति जताई है. आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा कि आयोग की गाइडलाइंस वैसी ही हैं जैसे 'किसी व्यक्ति को बांधकर समुद्र में फेंक दिया जाए और उससे तैरने के लिए कहा जाए.' जैदी ने कहा कि जो हालात पोलिंग स्टेशन में होते हैं वही मुहैया कराए जाएंगे. हमने पार्टियों से कहा है कि चार पोलिंग स्टेशन से चार ईवीएम चुन सकते हैं. मशीनें सील हालात में आती हैं, नियम के मुताबिक सील मशीनें ही उनको दी जाएंगी. मशीन को खोलने की इजाज़त नहीं दी जाएगी

आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने 3 जून को सभी राष्ट्रीय और राज्य स्तर की पार्टियों को ईवीएम को टैम्पर या हैक करने की चुनौती दी है, जिसमें यह कहा गया गया है कि आयोग की निगरानी में चार घंटे के भीतर ईवीएम को बाहर से बटन आदि दबाकर या वाईफाई, ब्लूटूथ, इंटरनेट आदि से टैम्पर या हैक करके दिखाएं. इस दौरान पॉलिटिकल पार्टी के नुमाइंदों को ईवीएम को अंदर से देखने की छूट होगी लेकिन अंदर छेड़छाड़ नहीं की जा सकती.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement