भुखमरी से 3 बच्चियों की मौत : पी. चिदंबरम ने कहा- मनेरगा और खाद्य सुरक्षा कानून की सरकार ने अनदेखी की

पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में कथित तौर पर भूख की वजह से तीन बच्चियों की मौत हो गई. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने स्वीकार किया है कि भुखमरी से तीन बच्चियों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदार है.

भुखमरी से 3 बच्चियों की मौत : पी. चिदंबरम ने कहा- मनेरगा और खाद्य सुरक्षा कानून की सरकार ने अनदेखी की

पी. चिदंबरम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने पूर्वी दिल्ली में तीन बच्चियों की कथित तौर पर भूख से मौत मामले पर आज दुख जताया और आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने मनरेगा और खाद्य सुरक्षा कानून की ‘निर्ममता’ से अनदेखी की है. चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बच्चों की भूख से मौत हो गई, यह हम सभी के लिए शर्मनाक और दुख का विषय है.’ उन्होंने कहा, ‘‘मनेरगा का यह मकसद था कि भुखमरी का खात्मा किया जाए. खाद्य सुरक्षा कानून को भी भुखमरी को खत्म करने के इरादे से बनाया गया था. बीजेपी सरकार ने इन दोनों की निर्ममता से अनदेखी की है.’’

Exclusive : डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने माना भुखमरी से मौत के लिए हमारी सरकार जिम्मेदार

गौरतलब है कि पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में कथित तौर पर भूख की वजह से तीन बच्चियों की मौत हो गई. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने स्वीकार किया है कि भुखमरी से तीन बच्चियों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने NDTV इंडिया से खास बातचीत में कहा कि सरकार जिम्मेदारी से नहीं बच सकती.

भुखमरी से मौत के मामले में सिस्टम फेल हुआ : मनीष सिसोदिया​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने तीन बच्चियों की कुपोषण से मौत के सवाल पर कहा कि ''दिल्ली सरकार हर हाल में मानती है कि हमारी यह जिम्मेदारी है कि हम हर हाल में लोगों की हालत को ठीक करें, लोगों का खयाल रखें, चाहे इलाज के लिए, चाहे गरीबी के लिए हो, भुखमरी के लिए हो. मानता हूं कि बिल्कुल सरकार की ज़िम्मेदारी है. सरकार ज़िम्मेदारी से कैसे बच सकती है?''

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)