NDTV Khabar

कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान व मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी : पी चिदंबरम 

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव (Assembly Election Results 2018) के बाद संसद में गैर भाजपाई दलों के संयोजन के बहुमत साबित करने के बाद तय होगा कि प्रधानमंत्री कौन बनेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान व मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी : पी चिदंबरम 

कांग्रेस की जीत पर चिदंबरम ने रखी अपनी बात

खास बातें

  1. कांग्रेस की जीत पर चिदंबरम में रखी अपनी बात
  2. कहा- अब लोग बीजेपी की नीतियों से तंग होने लगे हैं
  3. कांग्रेस करेगी जनता के लिए बेहतर काम- चिदंबरम
नई दिल्ली:

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम (P.Chidambaram) ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में (Assembly Election Results 2018) करीबी मुकाबले में कांग्रेस को मिली जीत को अद्भुत उपलब्धि करार दिया है. लोकमत नेशनल कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव (Assembly Election Results 2018) के बाद संसद में गैर भाजपाई दलों के संयोजन के बहुमत साबित करने के बाद तय होगा कि प्रधानमंत्री कौन बनेगा. विधानसभा चुनावों (Assembly Election Results 2018) में कांग्रेस की जीत पर चिदंबरम (P.Chidambaram) ने कहा कि कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान या मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी. पार्टी ने वोट शेयर, वोटों की संख्या के मामले भाजपा से अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के धोखे को समाज के विभिन्न वर्गों, किसानों, युवाओं, स्वरोजगार लोगों, कारोबारियों, दलितों और अल्पसंख्यकों ने पहचान लिया है.

यह भी पढ़ें:  चिदंबरम ने बीजेपी पर बोला हमला, कहा- कोई जनादेश हड़पने का प्रयास न करे


चिदंबरम ने "अगले 100 दिन में, भाजपा दोबारा वापसी करेगी, दौड़ में बने रहने के लिए किसी भ्रम में न पड़े. कांग्रेस लय में है. उसे अपने प्रयासों को चौगुना करना होगा. हम जमीन पर और काम करेंगे. चिदंबरम ने कहा कि हम और बूथ कमेटियां बनाएंगे और उसमें ज्यादा लोगों को जोड़ेंगे. शक्ति प्रोग्राम (नेताओं को कार्यकर्ताओं से जोड़ने का कार्यक्रम) को और मजबूत बनाएंगे. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही पी.चिदंबरम ने कहा था कि कांग्रेस राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में सरकार बनाएगी और किसी को भी उनका जनादेश हड़पने का प्रयास नहीं करना चाहिए. सिलसिलेवार ट्वीट में पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि समूचे देश ने संविधान और संवैधानिक मूल्यों की रक्षा के लिए छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश के मतदाताओं को मुबारकवाद दी है.

यह भी पढ़ें: बदले गए UPA के समय के GDP आंकड़े तो चिदंबरम बोले- यह बुरा मजाक

टिप्पणियां

उन्होंने कहा था कि कांग्रेस तीनों राज्यों में सरकार बनाएगी. ना तो भाजपा को और ना ही राज्यपालों को, किसी को भी तीनों राज्यों में जनादेश हड़पने की कोशिश नहीं करनी चाहिए.भाजपा को अपनी हार स्वीकार करनी चाहिए. चिदंबरम ने कहा कि सबके लिए एक सीख है. कठिन मेहनत को कम करके मत आंकिए. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हार नहीं मानी. भाजपा के धन और सत्ता बल के खिलाफ उन्होंने लड़ाई लड़ी और उन्हें जीत मिली. ध्यान हो कि पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी को छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में हार का सामना करना पड़ा है. छत्तीसगढ़ में जहां बीजेपी महज 15 सीटें ही जीत पाई तो कांग्रेस ने यहां कुल 65 सीटें जीतीं जबकि वह तीन सीटों पर आगे चल रही है.

VIDEO: कार्ति चिदंबरम जा सकते हैं विदेश.

वहीं राजस्थान में बीजेपी के नाम कुल 73 सीटें रहीं, जबकि कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियों ने यहां बहुमत का आंकड़ा छूते हुए कुल 101 सीटें जीतीं है. इसी तरह बीजेपी को मध्यप्रदेश में भी हार का मुंह देखना पड़ा. यहां पार्टी को 105 सीटों पर जीत मिली है जबकि वह तीन सीटों पर बढ़त बनाई हुई है. जबकि कांग्रेस को यहां 112 सीटों पर जीत मिली है जबकि वह भी तीन सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. (इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement