कांग्रेस शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की चिट्ठी ने GST की खामियों को बेनकाब कर दिया - पी चिदंबरम

कांग्रेस शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की चिट्ठी ने GST की खामियों को बेनकाब कर दिया.

कांग्रेस शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की चिट्ठी ने GST की खामियों को बेनकाब कर दिया - पी चिदंबरम

पी चिदंबरम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस के दिगग्ज नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस-शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों की लिखी चिट्ठी से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के डिजाइन और कार्यान्वयन में संरचनात्मक खामियों का खुलासा हुआ है. एक के बाद एक ट्वीट कर उन्होंने कहा कि इस पत्र से गुवाहाटी में होने वाली जीएसटी बैठक का एजेंडा तैयार हुआ है और इस बैठक में जीएसटी की दरों में बदलाव की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें - GST दरों में फिर बदलाव, अब सिर्फ 50 वस्तुओं पर ही 28 फीसदी टैक्स : 10 खास बातें

उन्होंने कहा, "आतंकित सरकार के पास बदलाव की मांग स्वीकार करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है. गुजरात चुनावों को धन्यवाद कि उसने सरकार को जीएसटी की खामियों पर विपक्ष और विशेषज्ञों की बात सुनने को मजबूर किया."
 

यह भी पढ़ें - दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल मामला : कोर्ट में चिदंबरम बोले- एलजी दिल्ली के वायसराय नहीं हैं

चिदंबरम ने कहा कि सरकार ने जीएसटी बिल पर राज्य सभा में चर्चा और मतदान से परहेज किया. अब सरकार सार्वजनिक मंच पर या जीएसटी परिषद में इस पर चर्चा से परहेज नहीं कर सकती. आगे उन्होंने कहा, "कांग्रेसी वित्त मंत्रियों ने जीएसटी परिषद की बैठक में इसके बदलाव के लिए जोर डाला है. आगरा, सूरत, तिरुपुर और अन्य केंद्रीय शहर इसे देख रहे हैं."

VIDEO - दिल्ली सरकार बनाम एलजी मामले में पी चिदंबरम

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com