सरकार ने PPF समेत अन्य बचत योजनाओं पर घटाया ब्याज तो चिदंबरम बोले- फैसला सही हो सकता है लेकिन टाइमिंग गलत

Interest Cut on Small Savings Scheme: चिदंबरम ने कहा, "इस बहुत ही मुश्किल घड़ी और आय को लेकर अनिश्चितता के दौर में लोग अपनी बचत पर ब्याज से होने वाली आय पर निर्भर होते हैं."

सरकार ने PPF समेत अन्य बचत योजनाओं पर घटाया ब्याज तो चिदंबरम बोले- फैसला सही हो सकता है लेकिन टाइमिंग गलत

लघु बजत योजना पर ब्याज घटाने का चिदंबरम ने किया विरोध (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सरकार ने PPF समेत अन्य बचत योजनाओं पर घटाया ब्याज
  • चिदंबरम बोले- फैसला सही हो सकता है
  • लेकिन ऐसा करने का यह गलत समय है
नई दिल्ली:

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र और लोक भविष्य निधि (PPF) समेत लघु बचत योजनाओं (Small Savings Schemes) पर ब्याज दरें कम करने के फैसले की आलोचना करते हुए बुधवार को कहा कि सरकार को 30 जून तक के लिए पुरानी ब्याज दरें बहाल करनी चाहिए. पूर्व वित्त मंत्री ने ट्वीट कर कहा, ''पीपीएफ और लघु बचत पर ब्याज दर कम करना तकनीकी रूप से सही हो सकता है, लेकिन ऐसा करने का यह गलत समय है.''

चिदंबरम ने कहा, "इस बहुत ही मुश्किल घड़ी और आय को लेकर अनिश्चितता के दौर में लोग अपनी बचत पर ब्याज से होने वाली आय पर निर्भर होते हैं. सरकार को इस निर्णय पर तत्काल पुनर्विचार करना चाहिए और पहले की ब्याज दर को 30 जून तक बहाल करना चाहिए.'' उन्होंने यह भी कहा, ''मेरे विचार से हमें विकास दर को लेकर चिंता नहीं करनी चाहिए. फिलहाल लोगों की जिंदगियां बचाने पर जोर होना चाहिए."

चिदंबरम ने पिछले दिनों घोषित वित्तीय पैकेज का उल्लेख करते हुए कहा, ''मैं इस बात से चिंतित हूं कि सरकार ने 25 मार्च को बहुत ही कम वित्तीय पैकेज की घोषणा के बाद अब तक वित्तीय सहायता पैकेज का ऐलान नहीं किया.''

गौरतलब है कि सरकार ने मंगलवार को राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र और लोक भविष्य निधि समेत लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरें 2020-21 की पहली तिमाही के लिये 1.4 प्रतिशत तक घटा दीं. बैंक जमा दरों में कटौती के बीच यह कदम उठाया गया है.

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)